• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • मध्य प्रदेश चुनाव: इस महाभारत में कितने संजय! अब तक इतनों ने बदला पाला

मध्य प्रदेश चुनाव: इस महाभारत में कितने संजय! अब तक इतनों ने बदला पाला

File Photos

File Photos

कई ऐसे प्रत्याशी हैं जिन्होंने ऐन मौके पर पाला बदल लिया है. इस क्रम में ताजा नाम शिवराज सिंह चौहान के साले संजय सिंह मसानी है जिन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया है.

  • Share this:
    मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में राजनीतिक गहमागहमी बढ़ गई है. एक ओर जहां जोड़तोड़ कर प्रत्याशियों को अपने तरफ खींचा जा रहा है, तो वहीं टिकट वितरण का समय आते-आते कई ऐसे प्रत्याशी हैं, जिन्होंने ऐन मौके पर पाला बदल लिया है. इस क्रम में ताजा नाम शिवराज सिंह चौहान के साले संजय सिंह मसानी है जिन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया है. (इसे पढ़ें- कमलनाथ ने पूर्व सीएम को दिया कांग्रेस में शामिल होने का ऑफर, मिला ये जवाब!)

    संजय सिंह मसानी
    साधना सिंह के भाई संजय सिंह को दिल्ली में कमलनाथ ने सिंह को पार्टी की सदस्यता दिलवाई. संजय सिंह के कांग्रेस में शामिल होते ही कयास लगाए जा रहे हैं कि वह बुधनी सीट पर अपने बहनोई के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं. संजय सिंह पहले एक्टर भी रहे हैं. राजनीति में भी कभी-कभार ही सक्रिय नजर आते थे. हालांकि, कांग्रेस उन पर निशाना साधती रही है. लेकिन अब कांग्रेस ने पूरी तरह समीकरण ही बदल दिया है.

    संजय शर्मा
    तेंदूखेड़ा से मौजूदा बीजेपी विधायक संजय शर्मा ने कांग्रेस का दामन थाम लिया. संजय शर्मा ने इंदौर में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की. दो बार तेंदुखेडा सीट से पार्टी के विेधायक रहे संजय शर्मा का कांग्रेस में जाना बीजेपी को ऐन चुनाव के वक़्त बड़ा झटका माना जा रहा है.

    संजय पाठक
    इस क्रम की बात की जाए तो संजय पाठक ने ही इसकी शुरुआत की जब 2014 में उन्होंने पाला बदलकर बीजेपी ज्वॉइन कर ली थी. ये कटनी से विधायक हैं. इनके पिता पुराने कांग्रेस नेता रह चुके हैं.

    प्रेमचंद्र गुडू
    कांग्रेस के पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू बीजेपी में शामिल हो गए. प्रेमचंद को दिग्‍विजय सिंह का काफी करीबी माना जाता है. गुड्डू मालवा के प्रभावशाली नेता हैं. प्रेमचंद गुड्डू के शामिल होने से बीजेपी को काफी मजबूती मिलने की संभावना जताई जा रही है.

    पद्मा शुक्ला
    24 सितंबर को इंदौर में बीजेपी को एक और झटका तब लगा जब मध्य प्रदेश की शिवराज कैबिनेट में मंत्री का दर्जा प्राप्त मध्य प्रदेश समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष पदमा शुक्ला ने बीजेपी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और कांग्रेस की सदस्यता हासिल कर ली थी.

    अभी चुनाव में एक महीना बचा हुआ है. इस क्रम में कई बड़े नेता दल-बदल रहे हैं. इसमें कई बड़े नाम भी शामिल हो रहे हैं. जाहिर बात है कि यह देखना दिलचस्प होगा कि कितनों को बीजेपी और कांग्रेस टिकट देगी और कितने चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंच पाएंगे.

    यह पढ़ें- कांग्रेस में शामिल हुए शिवराज के साले संजय सिंह, बहनोई के खिलाफ लड़ सकते हैं चुनाव

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज