लाइव टीवी

शिवराज के आरोप पर बोले ऊर्जा मंत्री- जिन्हें सब्सिडी नहीं चाहिए, सरकार को बता दें

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 6, 2019, 6:13 PM IST
शिवराज के आरोप पर बोले ऊर्जा मंत्री- जिन्हें सब्सिडी नहीं चाहिए, सरकार को बता दें
ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा कि सरकार ने कांग्रेस का वचन निभाने का काम किया है.

शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) के बिजली बिलों पर वाहवाही लूटने के आरोप पर ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह (Priyavrat Singh) ने कहा है कि जिनको सब्सिडी का लाभ नहीं लेना है वो सरकार को प्रस्ताव दे सकते हैं. उन्होंने कहा कि बिजली बिल पार्टी को देखकर जारी नहीं किए जा रहे हैं. सरकार ने कांग्रेस का वचन निभाया है.

  • Share this:
भोपाल. इंदिरा गृह ज्योति योजना (Indira Grah Jyoti Yojna) के तहत बिजली बिलों (Electricity Bill) को लेकर बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) फिर से आमने सामने हैं. कांग्रेस सरकार के 'सौ यूनिट बिजली पर सौ रुपए का बिजली बिल योजना' के लागू होने के बाद अब बिजली उपभोक्ताओं के बिल 60 से 100 रुपए तक आ रहे हैं. इस योजना में बीजेपी के नेताओं के बिजली बिल भी शामिल हैं. कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) से लेकर बीजेपी के बड़े नेताओं के घर के बिल 100 रुपए से कम आ रहे हैं. बीजेपी ने इस पर आपत्ति दर्ज कराकर बेवजह सक्षम लोगों को योजना से जोड़ने का आरोप लगाया है.

पार्टी को देखकर जारी नहीं हो रहे बिजली बिल
शिवराज सिंह चौहान ने हाल ही में सरकार के बीजेपी नेताओं के घर के बिल कम कर कांग्रेस सरकार पर वाहवाही लूटने का आरोप लगाया. उन्होंने गरीबों के बिजली बिल माफ करने की मांग उठाई तो बुधवार को प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा है कि जिनको सब्सिडी का लाभ नहीं लेना है वो सरकार को प्रस्ताव दे सकते हैं, सरकार उस पर फैसला करेगी. ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा है कि कांग्रेस के वचन पत्र के तहत कांग्रेस सरकार ने 97 लाख बिजली उपभोक्ताओं को सरकार की योजना से जोड़ा है. सौ यूनिट तक बिजली जलाने वालों को सौ रुपए बिजली बिल दिया जा रहा है और योजना में किसी पार्टी को देखकर बिजली बिल जारी नहीं हो रहे हैं.

बिजली पर छूट नहीं चाहिए तो सरकार को बताएं

कैलाश विजयवर्गीय समेत दूसरे नेताओं के बिजली कम आने पर मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा है कि यदि उन्हें बिजली बिल हाफ पर आपत्ति है तो वो सरकार को प्रस्ताव दे सकते हैं. सरकार उनकी सब्सिडी खत्म करने पर विचार करेगी. बीजेपी के हाल में बिजली बिलों को लेकर हुए प्रदर्शन पर भी ऊर्जा मंत्री ने तंज कसते हुए कहा है कि बीजेपी लोगों को गुमराह करने के लिए इस तरह के प्रदर्शन कर रही है, लेकिन हकीकत में भाजपाईयों को मालूम है कि सरकार ने कांग्रेस का वचन निभाने का काम किया है.

100 यूनिट की खपत पर 100 रूपये का बिल
बहरहाल एमपी सरकार ने बिजली बिल हाफ के वचन को पूरा करने के लिए बीजेपी की संबल योजना की जगह इंदिरा गृह ज्योति योजना को अमल में लाकर लोगों को कम बिल देकर चौंका दिया है. अब बिजली उपभोक्ताओं को सौ रुपए से कम यूनिट की बिजली की खपत पर सौ रुपए से कम के बिजली बिल मिल रहे हैं, लेकिन इस योजना में उन लोगों के शामिल होने पर सवाल उठ खड़े हुए हैं जो कि बिजली बिल जमा करने के लिए सक्षम हैं और सरकार की योजना का लाभ नहीं लेना चाहते हैं. बहरहाल अब सरकार ने उन लोगों की आपत्ति के भी समाधान की तैयारी कर ली है जो सरकार की सब्सिडी का लाभ नहीं लेना चाहते हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें -
बच्चे की मौत से दुखी पिता ने अस्पताल से कूदकर की खुदक़ुशी, सदमे में मां ने दम तोड़ा
बर्ख़ास्त विधायक प्रह्लाद लोधी की याचिका पर सुनवाई पूरी, कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 5:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...