टेरर फंडिंग के आरोप में गिरफ्तार 3 लोगों को कोर्ट ने पुलिस रिमांड में भेजा

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 23, 2019, 10:52 PM IST
टेरर फंडिंग के आरोप में गिरफ्तार 3 लोगों को कोर्ट ने पुलिस रिमांड में भेजा
प्रतीकात्मक तस्वीर

एटीएस (ATS) भोपाल के एसपी प्रणव नागवंशी ने बताया कि सतना से गिरफ्तार किए गए सुनील सिंह, बलराम सिंह, और शुभम मिश्रा को शुक्रवार को पुलिस रिमांड के लिए अदालत में पेश किया गया.

  • Share this:
मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) पुलिस की आतंकवाद निरोधक दस्ते (Anti-Terrorism Squad) ने आतंकवादियों को पैसा पहुंचाने के आरोप में सतना (Satna) से बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किए गए तीन लोगों को यहां अदालत में पेश किया. अदालत ने आगे पूछताछ के लिए तीनों को पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेजने का आदेश दिया है.

एटीएस (ATS) भोपाल के पुलिस अधीक्षक (एसपी) प्रणव नागवंशी ने बताया कि सतना से गिरफ्तार किए गए सुनील सिंह, बलराम सिंह, और शुभम मिश्रा को शुक्रवार को पुलिस रिमांड के लिए अदालत में पेश किया गया. अदालत ने आरोपियों से आगे पूछताछ के लिये पांच दिन के पुलिस रिमांड में भेजने का आदेश दिया है. उन्होंने बताया कि आरोपियों को गुरुवार को सतना पुलिस ने गिरफ्तार किया था और मामले में आगे जांच के लिये एटीएस को सौंप दिया.

मध्य प्रदेश पुलिस ने आतंकवादियों को पैसा पहुंचाने के आरोप में गुरुवार को सतना से तीन लोगों को गिरफ्तार किया था जबकि दो अन्य को हिरासत में लिया था. ये आरोपी पाकिस्तान के विभिन्न फोन नंबरों पर संपर्क कर बड़ी धनराशि का लेन-देन आतंकवादियों के साथ करते थे.

पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ एटीएस द्वारा आईपीसी की धारा 123 (युद्ध करने की परिकल्पना को सुगम बनाने के आशय से छिपाना) के तहत मामला दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है.

जिला पुलिस अधीक्षक (एसपी) रियाज इकबाल ने इस सबंध में पूछे जाने पर बृहस्पतिवार को बताया, 'इस मामले में पुलिस ने सुनील सिंह, बलराम सिंह एवं शुभम मिश्रा को गिरफ्तार किया है, जबकि दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. गिरफ्तार किए गए और हिरासत में लिए गए पांचों को इस मामले में आगे पूछताछ के लिए एटीएस को सौंप दिया गया है.'

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए बलराम और हिरासत में लिया गए एक व्यक्ति को एटीएस ने जासूसी और आतंकवाद वित्तपोषण के मामले में फरवरी 2017 में भी गिरफ्तार किया था. बलराम जमानत पर था. इकबाल ने बताया कि ये आरोपियों के पास से मोबाइल फोन मिले हैं. इनसे सोशल नेटवर्क साइट और अन्य जरियों से बाहर के नंबरों पर बात हुई है तथा वीडियो क्लिप भी मिले हैं. इसके अलावा विभिन्न बैंक खातों का उपयोग करके कई लेन देन किए गए हैं.

एसपी ने कहा कि इन लोगों का उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार के कई जिलों के लोगों से तार जुड़े हैं. इस मामले में आगे की जांच एटीएस करेगी.
Loading...

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 10:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...