Home /News /madhya-pradesh /

ये कोरोना वॉरियर Lockdown में कर रहा था अड़ीबाज़ी, DGP को खबर लगी तो हो गया ट्रांसफर

ये कोरोना वॉरियर Lockdown में कर रहा था अड़ीबाज़ी, DGP को खबर लगी तो हो गया ट्रांसफर

भोपाल में जनता से अवैध वसूली कर रहा था टीआई

भोपाल में जनता से अवैध वसूली कर रहा था टीआई

एडिशनल एसपी (ADSP) संजय साहू ने बताया कि जब ये शिकायतें डीजीपी (DGP) और आईजी (IG) तक पहुंची तो टीआई सुदेश तिवारी का ट्रांसफर कर दिया गया.

भोपाल.लॉक डाउन (lockdown) में फील्ड पर तैनात पुलिसकर्मी योद्धा बनकर दिन-रात जनता की रक्षा कर रहे हैं. लेकिन अपवाद के तौर पर पुलिस को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया है. भोपाल के एक टीआई (TI) पर लॉक डाउन में व्यापारियों से अवैध वसूली और हवाला (HAWALA) की रकम हड़पने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं. डीजीपी (DGP) और आईजी तक यह मामला पहुंचा तो टीआई का ट्रांसफर (TRANSFER) कर दिया गया.

व्यापारियों से अड़ीबाजी
ये मामला भोपाल के अशोका गार्डन थाना क्षेत्र है. इस इलाके में इंडस्ट्रियल एरिया भी आता है. वहां के 2 व्यापारियों ने थाना प्रभारी सुदेश तिवारी की डीजीपी से शिकायत की है. आरोप है कि टीआई झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर अवैध रूप से व्यापारियों से वसूली करता है. व्यापारियों ने डीजीपी से शिकायत की कि टीआई ने उनसे 2 लाख 40 हज़ार रुपए अवैध रूप से वसूले. इसी इंडस्ट्रियल एरिया में सुपारी से भरे ट्रक के मालिक से 5 लाख लेने का आरोप भी तिवारी पर लगा. इनके अलावा दुर्गेश विहार में रहने वाले विकास विजयवर्गीय ने 3 लाख रुपए और गोविंद गार्डन के मुक्कू रामचंदानी ने 1लाख रुपए अवैध रूप से वसूलने की शिकायत की. इससे पहले इंडस्ट्रियल एसोसिएशन ने 12 मई को आईजी से इस पूरे मामले की लिखित शिकायत की थी.

हवाला की राशि में हुआ खेल
शिकायतकर्ता अभिषेक मालवीय ने आरोप लगाया कि टीआई सुरेश तिवारी ने हवाला के नाम पर भी लोगों से अड़ीबाजी की है. उन्हें झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी जा रही थी. मुझसे भी ढाई लाख रुपए लिए गए. टीआई तिवारी पर व्यापारी दयानंद उसके साथियों को झूठे प्रकरण में फंसा कर एक करोड़ 41 लाख हवाला के मामले में 80 लाख रुपए का जप्ती पत्रक बनाने का आरोप है. मनोज उर्फ कल्लू साहू पान मसाले के दुकानदार से 3 लाख, मनोज के साथ ही अन्य 18 लोगों को भी हवाला के केस में फंसाने की धमकी देकर दो ला प्रत्येक से कुल 39 लाख रूपए अवैध रूप वसूलने का आरोप टीआई पर लगा.

टीआई का ट्रांसफर
एडिशनल एसपी संजय साहू ने बताया कि जब ये शिकायतें डीजीपी और आईजी तक पहुंची तो टीआई सुदेश तिवारी का ट्रांसफर कर दिया गया.  साहू ने कहा-शिकायतों के संबंध में मुझे कोई जानकारी नहीं है. तिवारी का ट्रांसफर वरिष्ठ अफसरों ने किया है.

ये भी पढ़ें-

CM शिवराज ने फेंकी गुगली, अब क्या करेंगी पं.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी!

LOCKDOWN 4.0: भोपाल 6 सेक्टर में बंटा, क्‍या अब सैलून में बाल कटा सकेंगे आप?

Tags: Corona disaster, Corona warriors, Madhya pradesh news, Madhya pradesh Police

अगली ख़बर