लाइव टीवी

Lockdown: आज से 200 ट्रेनों के लिए टिकट बुकिंग शुरू, कुछ मिनटों में ही कई ट्रेनों की सीटें फुल
Bhopal News in Hindi

Puja Mathur | News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 5:30 PM IST
Lockdown: आज से 200 ट्रेनों के लिए टिकट बुकिंग शुरू, कुछ मिनटों में ही कई ट्रेनों की सीटें फुल
आज से शुरू हुई 200 ट्रेनों के लिये टिकट बुकिंग (फाइल फोटो)

भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू किया है. इसके लिए टिकटों की बुकिंग गुरूवार 21 मई सुबह 10 बजे से शुरू हुई. जैसे ही टिकटों की बुकिंग शुरू हुई कई ट्रेनों में कुछ मिनटों में सारी सीटें फुल हो गईं. तो कई ट्रेनों में रिग्रेट का ऑप्शन भी नजर आ रहा है

  • Share this:
भोपाल. कोरोनावायरस (COVID-19) को रोकने के मकसद से केंद्र सरकार ने देश भर में लॉकडाउन (Lockdown) लागू कर रखा है. 18 मई से लॉकडाउन का चौथा फेज जारी है. लॉकडाउन के दौरान ट्रेन, हवाई उड़ान, बाजार, कारोबार सब कुछ बंद है. इसने लोगो को काफी मुसिबत में डाला लेकिन अब इस व्यवस्था में थोड़ी राहत दी जा रही है. जो प्रवासी लोग अन्य राज्यों में फंसे हैं उन्हें अब थोड़ी राहत मिल सकेगी. भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू किया है. इसके लिए टिकटों की बुकिंग गुरूवार 21 मई सुबह 10 बजे से शुरू हुई. जैसे ही टिकटों की बुकिंग शुरू हुई कई ट्रेनों में कुछ मिनटों में सारी सीटें फुल हो गईं. तो कई ट्रेनों में रिग्रेट का ऑप्शन भी नजर आ रहा है.

सुबह 10 बजे से शुरू हुई रेल टिकटों की बुकिंग
रेलवे के इस एलान से यात्रियों को राहत मिली है. ट्रायल के तौर पर इस व्यवस्था को पहले शुरू किया गया था जो सफल रहा. अब इस व्यवस्था की सफलता के बाद रेलवे जल्द ही प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए दोगुनी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू करने के प्रयास में है. रेल मंत्रालय ने इससे पहले आम लोगों के लिए भी एक जून से प्रतिदिन 200 नॉन-एसी ट्रेनों का परिचालन शुरू करने की घोषणा की थी. बुधवार को रेल मंत्रालय ने एक जून से चलने वाली ट्रेनों की लिस्ट जारी की थी. वहीं ट्रेन से यात्रा करने वाले पैसेंजर्स के लिए गाइडलाइन जारी की गई है. रेलवे की ओर से बताई गई ये 100 नॉन एसी ट्रेन अपने तय टाइमटेबल के हिसाब से चलेंगी. एक जून से चलने वाली 100 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों के लिए टिकट की बुकिंग गुरुवार सुबह 10 बजे से शुरू हो गई है. यात्री केवल IRCTC की वेबसाइट और एप पर ही ट्रेन की टिकट बुक कर सकते हैं. क्योंकि रेलवे विंडो टिकट की सेवा उपलब्ध नहीं होगी.

किस ट्रेन का क्या होगा चार्ज



एक जून से देश में 100 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी. रेलवे ने इन 100 ट्रेनों के नामों की सूची जारी कर दी है. रेलवे ने जानकारी दी है कि इनमें एसी, नॉन एसी और जनरल सभी तरह के कोच होंगे. इससे पहले मंगलवार को केवल नॉन एसी ट्रेनों के चलने की बात कही गई थी. रेलवे की जारी सूची में दुरंतो, संपर्क क्रांति, जन शताब्दी और पूर्वा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के नाम हैं. रेलवे ने यह स्पष्ट किया है कि बगैर रिजर्वेशन के किसी को भी यात्रा करने की परमिशन नहीं होगी. यहां तक कि जनरल कोच के लिए भी टिकट बुक किया जाएगा. इसके लिए यात्री को सेकेंड सीटिंग का किराया चुकाना होगा. बदले में उसे एक आरक्षित सीट मिलेगी. अन्य सभी श्रेणी में किराया सामान्य ट्रेनों जैसा ही रहेगा. इन ट्रेनों में अधिकतम 30 दिन आगे तक का वेटिंग टिकट लेना मान्‍य होगा. वेटिंग और आरएसी का टिकट भी नियमानुसार मिलेगा, लेकिन वेटिंग वालों को यात्रा की अनुमति नहीं मिलेगी. क्योंकि टिकट ऑनलाइन बुक होंगे इसलिए तय समय में ट्रेनों के चलने के पहले ही वेटिंग के टिकट खुद कैंसिल हो जाएंगे और टिकट का पैसा यात्री के अकाउंट में रिफंड हो जाएगा.



खास बातें, शर्तें और नियम
यात्रियों के लिए आरएसी और प्रतीक्षा सूची के टिकट उपलब्ध होंगे. कोई तत्‍काल और प्रीमियम तत्‍काल बुकिंग नहीं होगी. वर्तमान आरक्षण ट्रेन के निर्धारित प्रस्थान से पहले दो बजे तक ऑनलाइन उपलब्ध होगा. वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी. फूड प्लाजा सहित स्टेशन के सभी स्टॉल खोले जाएंगे लेकिन केवल आर्डर वाला भोजन ही उपलब्‍ध होगा.

रेलवे द्वारा एक जून से जिन 100 स्पेशल ट्रेनों को चलाने का निर्णय लिया गया है उनमें लखनऊ मेल, श्रमजीवी एक्सप्रेस, प्रयागराज एक्सप्रेस, श्रमशक्ति एक्सप्रेस, गोमती एक्सप्रेस, गोरखधाम एक्सप्रेस, गोल्डन टेंपल, पश्चिम एक्सप्रेस के नाम भी शामिल हैं. ये वो रेलगाड़ियां हैं जो ज्यादा लोगों के इस्तेमाल में आती हैं.

श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों की संख्‍या बढ़ाएगा रेलवे 
इससे पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल ने जानकारी दी कि अगले दो दिन में भारतीय रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या प्रतिदिन 400 कर देगा. उन्होंने सभी प्रवासियों ने अनुरोध किया कि वो जहां रहें, भारतीय रेलवे अगले कुछ दिनों में उन्हें घर वापस ले आएगी. गोयल ने राज्य सरकारों से आग्रह किया है कि श्रमिकों की सहायता करे और उन्हें नजदीकी मेनलाइन स्टेशन के पास रजिस्टर कर, लिस्ट रेलवे को दे. जिससे रेलवे, श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाए और लोगों को उनके घर तक पहुंचाए.

ये हैं महत्‍वपूर्ण ट्रेनों के नाम
लखनऊ मेल, श्रमजीवी एक्सप्रेस, प्रयागराज एक्सप्रेस, श्रमशक्ति एक्सप्रेस, गोमती एक्सप्रेस, गोरखधाम एक्सप्रेस, गोल्डन टेंपल, पश्चिम एक्सप्रेस ये वो ट्रेने हैं जो ज्यादा लोगो के इस्तेमाल में आती हैं.जिन ट्रेनो में 73 जोड़ी मेल एक्सप्रेस, 5 जोड़ी नॉन एसी दूरंतो, 22 जोड़ी जनशताब्दी हैं. इन ट्रेनों में से 13 जोड़ी ट्रेनें भोपाल में हॉल्ट लेंगी, जबकि 2 ट्रेनें हबीबगंज से शुरू होंगी. इनमें एसी और नॉन एसी दोनों श्रेणियां होंगी.ज रनल डिब्बे में बैठने के लिए भी आरक्षण करवाना होगा. ट्रेनों में एसी-नॉन एसी दोनों श्रेणियां होंगी, जनरल डिब्बे के लिए भी रिजर्वेशन करवाना होगा.

कौन सी ट्रेन कहां से कहां तक चलेंगी
ट्रेन संख्या 01016-01015 कुशीनगर एक्सप्रेस- गोरखपुर से एलटीटी मुंबई तक, ट्रेन संख्या 01071-01072 कामायनी एक्सप्रेस- वाराणसी से एलटीटी मुंबई, ट्रेन संख्या 02155-02156 भोपाल एक्सप्रेस- हबीबगंज से हजरत निजामुद्दीन, ट्रेन संख्या 02533-02534 पुष्पक एक्सप्रेस- लखनऊ से मुंबई सीएसटी, ट्रेन संख्या 02618-02617 मंगला-लक्ष्यद्वीप एक्सप्रेस- हजरत निजामुद्दीन से अर्नाकुलम, ट्रेन संख्या 02715-02616 सचखंड एक्सप्रेस- अमृतसर से हुजूर साहेब नांदेड़, ट्रेन संख्या 02541-02542 गोरखपुर एलटीटी सुपर फास्ट- गोरखपुर से एलटीटी मुंबई, ट्रेन संख्या 02779-02780 गोवा एक्सप्रेस- हजरत निजामुद्दीन से वास्कोडिगामा, ट्रेन संख्या 02061-02062 जन शताब्दी एक्सप्रेस- हबीबगंज से जबलपुर, ट्रेन संख्या 02724-02723 तेलंगाना एक्सप्रेस- नई दिल्ली से हैदराबाद, ट्रेन संख्या 02285-02286 दूरंतो- सिकंदराबाद-निजामुद्दीन दूरंतो, ट्रेन संख्या 02630-02629 संपर्क क्रांति- निजामुद्दीन-यशवंतपुर, ट्रेन संख्या 02805-02806 एपी एक्सप्रेस- नई दिल्ली-विशाखापट्‌टनम और ट्रेन संख्या 02283-02284 दूरंतो- निजामुद्दीन-एर्नाकुलम तक चलेगी.

ये भी पढ़ें: MP: संजय द्विवेदी बने माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्‍वविद्यालय के VC
First published: May 21, 2020, 3:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading