मध्य प्रदेश में मुसीबत बनी बारिश : हरदा जेल में भरा पानी, 11 जिलों में स्कूलों की छुट्टी, 32 में अलर्ट

News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 12:22 PM IST
मध्य प्रदेश में मुसीबत बनी बारिश : हरदा जेल में भरा पानी, 11 जिलों में स्कूलों की छुट्टी, 32 में अलर्ट
हरदा ज़िला जेल में पानी भर गया है

भोपाल में भी लगातार हो रही बारिश अब लोगों को परेशान कर रही है. यहां निचली बस्तियों में पानी भर गया है. स्कूलों में दो दिन की छुट्टी है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मॉनसून (Monsoon) पूरी तरह प्रदेश पर हावी है. बारिश के हालात ऐसे हैं कि मौसम विभाग ने 32 जिलों में अलर्ट (weather alert) जारी किया है. प्रदेश का बड़ा इलाका बाढ़ की चपेट में है. राजधानी भोपाल, सीहोर, मंडला, नरसिंहपुर और जबलपुर सहित 11 जिलों में स्कूलों और आंगनबाड़ियों में छुटटी घोषित करनी पड़ी. निचली बस्तियां जलमग्न हो गई हैं. नदी-नाले और डैम उफान पर हैं. बरगी डैम (Bargi dam) के सभी 21 गेट खोल दिए गए थे. पुल-पुलियों पर कई फीट पानी बह रहा है. गांव और शहरों का सड़क संपर्क टूट गया है.

हरदा-जेल में भरा पानी
हरदा जिले में बारिश के कारण हालात बिगड़ गए हैं. सुकनी नदी का पानी ज़िला जेल में भर गया है. जेल की दो बैरकों में 3 से 4 फीट पानी भरा हुआ है. NDRF की टीम मौके पर पहुंच गई है. कैदियों को दूसरी बैरक में शिफ्ट किया गया है.



बारिश इतनी ज्यादा है कि गांवों का संपर्क ज़िला मुख्यालय से कट गया है. शहर के कई वॉर्ड जलमग्न हैं. हरदा शहर के आदमपुर, भून्नास,अबगांव खुर्द,सहित कई गांवों में पानी भर गया है. मकानों में पानी भर गया है. करीब 500 लोगों को शिविरों में शिफ्ट किया गया है. अजनाल नदी भी ज़बरदस्त उफान पर है. पानी भरने के कारण उसने खंडवा का रास्ता रोक दिया है. बारिश के कारण अजनाल, माचक, हंसावती, सुकनी, गंजाल,मठकूल और नर्मदा उफान पर हैं. नर्मदा का जलस्तर 267.940 मीटर पार कर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है.

होशंगाबाद में खतरे के करीब नर्मदा
होशंगाबाद ज़िले में 2 दिन से मूसलाधार बारिश के कारण सेठानी घाट पर नर्मदा का जलस्तर 956 फीट पर पहुंच गया है. नदी खतरे के निशान से 964 फीट से अभी 8 फीट नीचे है. तवा डैम के सभी 13 गेट 12 फीट तक खोल दिए गए हैं. इनसे 2 लाख 57 हजार क्यूसेक पानी डिस्चार्ज किया जा रहा है. जबलपुर में बरगी डैम से छोड़ा गया पानी आज होशंगाबाद पहुंच जाएगा. जिले में इस बार सामान्य औसत बारिश 1311.7 मिमी को पार कर गई है. बाढ़ के कारण जिले के कई स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है. प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है. निचले इलाकों में लोगों से पानी से दूर करने की अपील की गई है.
Loading...

होशंगाबाद में नर्मदा नदी खतरे के निशान से थोड़ी ही नीचे है


धार में ऊपरी बांधों के गेट खोले
धार जिले में नर्मदा किनारे बसे गांवों में हाई अलर्ट जारी किया गया है. यहां ऊपरी बांधों के गेट खोल दिए गए हैं. जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है.

भारी बारिश के कारण डैम भी ओवर फ्लो हो रहे हैं


आगर मालवा-स्कूलों की छुट्टी
आगर मालवा में लगातार बारिश के कारण 12वीं कक्षा तक स्कूलों और आंगनबाड़ियों में अवकाश घोषित कर दिया गया है. कलेक्टर संजय कुमार ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं.

झाबुआ में सरदार सरोवर में जलस्तर बढ़ा
झाबुआ में सरदार सरोवर नर्मदा बांध के जलस्तर में बढ़ोतरी हो रही है. अभी नर्मदा डैम का जलस्तर 136,02 मीटर है. डैम के 23 गेट खोल दिए गए हैं. नर्मदा में 4 लाख 88 हज़ार क्यूसेक पानी आने से जलस्तर बढ़ गया है. केवडिया के पास गोरा ब्रिज राहगीरों के लिए बंद कर दिया गया है.

सड़कों पर पानी भरा हुआ है औऱ बस्तियां जलमग्न हैं.


उज्जैन -मंदिर जलमग्न
इंदौर और आसपास हो रही लगातार बारिश के कारण क्षिप्रा नदी का जलस्तर बढ़ गया है. नदी के घाट पर बने कई छोटे बड़े मंदिर जलमग्न हो गए हैं. नदी पर बना छोटा पुल भी डूब गया है. इस पुल पर 2 से 3 फीट पानी बह रहा है.



खंडवा- मोरटक्का पुल बंद
मोरटक्का पुल बंद पर पानी भरने के कारण रात 12 बजे से खंडवा- इंदौर पर आवाजाही रोक दी गई है. खंडवा-खरगोन मार्ग पर करीब 5 किमी लंबा जाम लग गया है. पुल के दोनों ओर प्रशासनिक अमला तैनात है. रात 12 बजे ओंकारेश्वर बांध से 20 हजार और इंदिरासागर बांध के 12 गेट से करीब 16 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है.

नरसिंहपुर में भी बाढ़ के हालात हैं


जबलपुर-नरसिंहपुर स्टेट हाईवे बंद
भारी बारिश के कारण जबलपुर-नरसिंहपुर स्टेट हाइवे बंद हो गया है. नर्मदा पर बने झांसीघाट के पुल पर करीब 10 फिट पानी भर गया है. स्टेट हाइवे पर सैकड़ों वाहन फंस गए हैं. राजस्व और पुलिस विभाग की टीमें मौके पर पहुंचकर रास्ता निकाल रही है.



सीहोर- मुगली के पानी में डूबा पुल
सीहोर में मुगली नदी उफान पर है. इसका पानी मुगली पुल के ऊपर आ गया है. इस वजह से कई गांव पानी में घिर कर टापू बन गए हैं. यहां पुलिया पार कर रहा एक बैल तेज बहाव में बह गया.

भोपाल में बारिश बनी परेशानी
भोपाल में भी लगातार हो रही बारिश अब लोगों को परेशान कर रही है. यहां निचली बस्तियों में पानी भर गया है. स्कूलों में दो दिन की छुट्टी है. कोलुआ वॉर्ड में नाला उफान पर आने के कारण सड़क नदी बन गई है. सड़क पर तेज बहाव के कारण आवागमन बंद हो गया है. यहां इतना पानी भर गया है. कि जेसीबी से खुदाई कर पानी निकाला जा रहा है.

ये भी पढ़ें - 

नाराज राज्यपाल लालजी टंडन से सीएम कमलनाथ ने की बात, दो अधिकारी निलंबित
टोल देने में आनाकानी कर रहे थे युवक, कर्मचारी अड़े तो दबंगों ने की धुनाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 11:09 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...