Home /News /madhya-pradesh /

MP Budget: जानिए, सिंहस्थ में कैसे नहीं होगी पानी की कमी

MP Budget: जानिए, सिंहस्थ में कैसे नहीं होगी पानी की कमी

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    वित्त मंत्री जयंत मलैया ने शुक्रवार को विधानसभा में प्रदेश का बजट पेश करते हुए नर्मदा-क्षिप्रा लिंक परियोजना की भी बात की. उन्होंने कहा कि दो नदियों की इस लिंक परियोजना से सिंहस्थ में पानी की कमी नहीं होगी.

    25 फरवरी 2014 को हुआ था लोकार्पण

    मालवांचल सहित मध्यप्रदेश 25 फरवरी 2014 को दो पवित्र नदियों, नर्मदा और क्षिप्रा के ऐतिहासिक मिलन का साक्षी बना. पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने इंदौर जिले में क्षिप्रा के उद्गम स्थल मुण्डला दोस्तदार-उज्जैनी में 432 करोड़ रुपये लागत से बनी मध्यप्रदेश सरकार की
    महत्वाकांक्षी नर्मदा-क्षिप्रा-सिंहस्थ लिंक परियोजना का लोकार्पण किया.

    क्षिप्रा को मिला नया जीवन

    इस लिंक परियोजना से क्षिप्रा को नया जीवन मिल गया. कभी मरुभूमि बनने की आशंका से जूझ रहे मालवा को नया जीवन मिला.

    मालवा की तस्वीर बदली

    नर्मदा का पानी मालवा की किस्मत बदलने आया है. इससे मालवा के एक बड़े क्षेत्र को सिंचाई, पीने के लिए तथा उद्योगों के लिए पानी उपलब्ध हुआ, साथ ही भू-जल स्तर भी बढ़ा और एक बार फिर मालवा में डग-डग रोटी तथा पग-पग नीर हुआ. जिससे इस परियोजना के बनने पर मालवा की धरती पर नर्मदा को लाने का सरकार का संकल्प पूरा हुआ.

    ऐसे पहुंचता है पानी

    नर्मदा-क्षिप्रा-सिंहस्थ लिंक परियोजना में ग्राम सिसलिया से क्षिप्रा उद्गम स्थल तक 348 मीटर ऊंचाई में 3 स्थान से पंप कर 48 किलोमीटर पाइप लाइन से पानी पहुंचाया गया है. इसके आगे कोई 115 किलोमीटर दूरी तक क्षिप्रा नदी के जरिये महाकाल की नगरी उज्जैन में रामघाट तक ग्रेविटी के माध्यम से बहकर पानी पहुंचेगा. परियोजना की क्षमता 432 एमएलडी है.

    आकर्षण का केन्द्र

    नर्मदा-क्षिप्रा नदियों के इस मिलन स्थल को आकर्षक रूप दिया गया है. नर्मदा जल एक झरने के रूप में ऊंचाई से गिरता है. झरने के ऊपर मकरवाहिनी मां नर्मदा की मूर्ति कच्छपवाहिनी मां क्षिप्रा की मूर्ति को कलश से जल प्रदान करते हुए दिखाया गया है. यहां बनाये गये जल कुण्ड और घाट एवं नहर भी आकर्षण का केन्द्र है.

    Tags: Simhastha 2016

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर