अपना शहर चुनें

States

केंद्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान बोले-जो कोरोना वैक्सीन का विरोध करे वो मंदबुद्धि

धर्मेन्द्र प्रधान
धर्मेन्द्र प्रधान

कोरोना वैक्सीनेशन (Corona vaccine) के इस महाअभियान के बीच उज्जैन (Ujjain) के सुन्नी मुस्लिम समाज के धर्मगुरु नायब काजी ने कहा है कि तब तक टीका नहीं लगाएंगे जब तक सुन्नी उलेमा कलाम और मुस्लिम डॉक्टर फतवा नहीं जारी करते

  • Share this:
भोपाल. केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) के संबंध में उज्जैन (Ujjain) के नायब काजी के बयान पर कहा है वैज्ञानिकों द्वारा जांची-परखी भरोसेमंद वैक्सीन पर इस तरह का बयान देने वाले मंदबुद्धि हैं. भोपाल आए धर्मेंद्र प्रधान ने कोरोना वैक्सीन को लेकर आपत्ति जताने वालों पर निशाना साधते हुए कहा ऐसे लोग कुंठा से पीड़ित हैं. ऐसे लोगों के लिए मैं सिर्फ खेद ही व्यक्त कर सकता हूं.

कोरोना काल के दौरान कुवैत सहित खाड़ी देशों ने भारत के हेल्थ सेक्टर से मिली मदद पर धन्यवाद दिया था. खाड़ी देशों ने भारत की तारीफ की है. ऐसे में देश के अंदर कुछ लोगों द्वारा कोरोना वैक्सीन को लेकर दिए जा रहे बयान उनकी मंदबुद्धि को दर्शाते हैं. केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कोरोना वैक्सीन भरोसे की वैक्सीन है. इस पर किसी तरह की आशंका जताना ठीक नहीं है.





नायब काज़ी ने कहा था...
मध्य प्रदेश में चार लाख 16 हजार फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन लगाया जा रहा है. टीकाकरण के इस महा अभियान के बीच उज्जैन के सुन्नी मुस्लिम समाज के धर्मगुरु नायब काजी ने कहा है कि तब तक टीका नहीं लगाएंगे जब तक सुन्नी उलेमा कलाम और मुस्लिम डॉक्टर फतवा नहीं जारी करते. जब तक फतवा जारी कर टीका लगवाने की इजाजत नहीं मिलेगी तब तक टीका नहीं लगाया जाएगा.

इसलिए महंगा हो रहा पेट्रोल
पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों पर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा देश में 80 फीसदी क्रूड ऑयल इंपोर्ट होता है. देश में खपत लगातार बढ़ रही है. उत्पादन और मांग में बड़ा अंतर आया है. इस कारण से पेट्रोल और डीजल महंगा हुआ है. लेकिन आने वाले दिनों में हालात में सुधार आएगा और क्रूड ऑयल के दाम घटने पर कुछ अच्छे फैसले सामने देखने को मिलेंगे.

सोलर एनर्जी से भोजन
प्रदेश के बैतूल के आदिवासी इलाकों में सोलर एनर्जी से भोजन तैयार करने की योजना की शुरुआत करने आए केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा फिलहाल पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इसकी शुरुआत की जा रही है. बाद में इसका विस्तार किया जाएगा. इस पायलट प्रोजेक्ट को ओएनजीसी की मदद से लागू किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज