होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /VyapamScam: अब तक 23 रैकेटियर की रहस्यमय हालात में मौत, पढ़ें किसकी कैसे हुई मौत

VyapamScam: अब तक 23 रैकेटियर की रहस्यमय हालात में मौत, पढ़ें किसकी कैसे हुई मौत

मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले से जुड़े आरोपियों की संदिग्ध मौतों का सिलसिला जारी है. इंदौर और सागर में दो आरोपियों की मौत के बाद दावा किया जा रहा है कि अब तक इस भर्ती घोटाले में 42 रैकेटियर की रहस्यमय हालात में मौत हो गई. हालांकि, व्यापमं घोटाले की जांच कर रही एसटीएफ की निगरानी के लिए बनाई गई स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने हाल ही में 23 रैकेटियर की मौत से जुड़ी अहम जानकारियां जुटाई थी.

मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले से जुड़े आरोपियों की संदिग्ध मौतों का सिलसिला जारी है. इंदौर और सागर में दो आरोपियों की मौत के बाद दावा किया जा रहा है कि अब तक इस भर्ती घोटाले में 42 रैकेटियर की रहस्यमय हालात में मौत हो गई. हालांकि, व्यापमं घोटाले की जांच कर रही एसटीएफ की निगरानी के लिए बनाई गई स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने हाल ही में 23 रैकेटियर की मौत से जुड़ी अहम जानकारियां जुटाई थी.

मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले से जुड़े आरोपियों की संदिग्ध मौतों का सिलसिला जारी है. इंदौर और सागर में दो आरोपियों की म ...अधिक पढ़ें

  • News18
  • Last Updated :

    मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले से जुड़े आरोपियों की संदिग्ध मौतों का सिलसिला जारी है. इंदौर और सागर में दो आरोपियों की मौत के बाद दावा किया जा रहा है कि अब तक इस भर्ती घोटाले में 42 रैकेटियर की रहस्यमय हालात में मौत हो गई. हालांकि, व्यापमं घोटाले की जांच कर रही एसटीएफ की निगरानी के लिए बनाई गई स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने हाल ही में 23 रैकेटियर की मौत से जुड़ी अहम जानकारियां जुटाई थी.

    इस रिपोर्ट में कहा गया है कि परीक्षाओं में प्रवेश और भर्ती घोटाले से जुड़े 23 रैकेटियर में से 10 की मौत सड़क हादसों में हुई है. वहीं, तीन लोगों ने खुदकुशी कर ली.

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इन आरोपियों की मौत को एसआईटी ने स्वाभाविक मौत मानने से इनकार कर दिया है. खासतौर पर 10 आरोपियों के सड़क हादसे में मारे जाने पर सवाल उठ रहे है.

    सबसे चौंकाने वाला पहलू प्रदेश के तीन-तीन शहरों में रहने वाले रैकेटियर की एक साथ रायसेन जिले में सड़क हादसे में मौत से जुड़ा हुआ है. ऐसे में अब हर मामले से जुड़ी केस डायरी को संबंधित थाने से बुलाकर जांच की जा सकती है.

    तीन आरोपियों की खुदकुशी करने और तीन आरोपियों की ज्यादा शराब पीने से मौत को भी सामान्य नहीं माना जा रहा है. ऐसे में एसआईटी ने इन मामलों की जांच के लिए भी एसटीएफ को निर्देशित किया है.

    क्रमांक-----------नाम-----------------निवासी------------तारीख

    सड़क हादसों में 10 मौत

    1------------अनुज उइके------------मंडला-------------14/06/2010

    2------------अंशुल सचान----------होशंगाबाद---------14/06/2010

    3------------श्याम वीर यादव----- ग्वालियर---------14/06/2010

    4------------आनंद सिंह यादव-----फतेहपुर-----------09/10/2013

    5------------अरविंद शाक्य---------ग्वालियर----------28/11/2012

    6------------दिनेश जाटव----------मुरैना--------------14/02/2014

    7------------कुलदीप मरावी------पता नहीं-----------12/05/2013

    8------------तरुण मछार---------रतलाम------------15/09/2013

    9------------देवेंद्र नागर----------भिंड----------------26/12/2013

    10------------दीपक जैन--------शिवपुरी------------01/02/2014

    तीन लोगों ने की खुदकुशी

    11------------आदित्य चौधरी---सागर----------25/10/2012/

    12------------प्रमोद शर्मा-------मुरैना ----------21/04/2013

    13-----------रविंद्र प्रताप सिंह---सिंगरौली----15/06/2014

    ब्रेन हेमरेज से 2 मौत

    14-----------शैलेष यादव-------लखनऊ-------25/03/2015

    15-----------विकास पांडे------ इलाहाबाद---20/04/2014

    ज्यादा शराब पीने से गई 3 जान

    16----------आशुतोष तिवारी----ग्वालियर---10/08/2013

    17----------ज्ञानसिंह-------------भिंड---------20/06/2010

    18----------विकास सिंह--------बड़वानी------21/11/2009

    बीमारी से 2 मौत

    19----------अनंत राय टैगोर------मुरैना------07/11/2012

    20----------प्रेमलता पांडे----------रीवा-------17/05/2013

    कारणों का खुलासा नहीं

    21---------नरेंद्र राजपूत---------महोबा------13/04/20014

    22-------- बंटी सिकरवार------ग्वालियर----21/01/2014

    23.--------विजय सिंह पटेल----भोपाल-------28/04/2015

    Tags: Vyapam Scam

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें