लाइव टीवी

मौसम ने बदला मिजाज़ : मकर संक्रांति पर सूर्य ने नहीं दिए दर्शन, कोहरे में लिपटा मध्यप्रदेश

News18 Madhya Pradesh
Updated: January 15, 2020, 1:15 PM IST
मौसम ने बदला मिजाज़ : मकर संक्रांति पर सूर्य ने नहीं दिए दर्शन, कोहरे में लिपटा मध्यप्रदेश
मध्य प्रदेश में मौसम ने करवट ली

मौसम विभाग का पूर्वानुमान भी कोहरे (fog) और बारिश (barish) का ऐलान कर रहा है. राजधानी भोपाल (bhopal) सहित प्रदेश के कई जिलों में आज बारिश के आसार हैं. भोपाल सहित ग्वालियर, गुना, अशोकनगर, खंडवा, खरगोन, धार, इंदौर, उज्जैन, और देवास में बारिश की संभावना जताई गई है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मौसम का मिजाज़ (weather change) अचानक फिर बदल गया है. मकर संक्रांति (makar sankranti) पर अमूमन सूर्य देव दर्शन देते हैं और माना जाता है कि सूर्ये के दक्षिण से उत्तरायण होने के बाद ठंड (cold) धीरे-धीरे विदा ले लेगी. लेकिन इससे बिलकुल विपरीत पूूरे प्रदेश में घना कोहरा (fog) और ठंड लौट आयी. मकर संक्रांति का स्नान इसी ठंड और कोहरे में हुआ. लोग सूर्य के दर्शन का इंतज़ार करते रहे.

राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कई इलाकों में घना कोहरा रहा. भोपाल में कोहरा इतना घना था कि विजिबिलिटी 100 मीटर से भी कम रह गयी थी. कई इलाके पूरी तरीके से कोहरे में डूबे नजर आए. पश्चिमी विक्षोभ के कारण भोपाल समेत प्रदेश के कई इलाकों में घने कोहरे का असर दिखाई दिया.

सूर्य देव का इंतज़ार
मकर सक्रांति सूर्य की आराधना का पर्व है. लेकिन कोहरे के कारण सूर्य देव नज़र ही नहीं आए. सूर्य की आराधना के लिए लोगों को सूर्य देव के दर्शन का इंतजार करना पड़ा.मंगलवार को भोपाल में हुई बारिश के बाद बुधवार की सुबह पूरी तरीके से कोहरे में लिपटी हुई नजर आई.

मौसम विभाग का पूर्वानुमान
मौसम विभाग का पूर्वानुमान भी कोहरे और बारिश का ऐलान कर रहा है. राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कई जिलों में आज बारिश के आसार हैं. भोपाल सहित ग्वालियर, गुना, अशोकनगर, खंडवा, खरगोन, धार, इंदौर, उज्जैन, और देवास में बारिश की संभावना जताई गई है.भोपाल ग्वालियर सागर संभाग के कई जिले में आज कोहरे का असर रहा.कोहरे के कारण राजधानी के तालाब और घाटों पर मकर सक्रांति पर स्नान करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या भी कम रही.

नर्मदा में डुबकीहोशंगाबाद में भगवान सूर्य के उत्तरायण में आने का पर्व मकर संक्रांति मनाया जा रहा है. मां नर्मदा की नगरी होशंगाबाद में बड़ी संख्या में नर्मदा घाटों पर स्नान के लिए श्रद्धालु पहुंचे.श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए घाटों पर पुलिस तैनात की गयी है. रेलवे ने 6 अतिरिक्त ट्रेनें चलायी हैं.

सीहोर में कोहरा
मकर संक्रांति के दिन सीहोर सुबह से भारी कोहरे की चादर ओढ़े रहा. लोग सूर्य का इंतजार करते रहे.भारी कोहरे के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है. ये इस मौसम का अब तक का सबसे घना कोहरा रहा.

अशोकनगर में बूंदाबांदी
मौसम ने यहां एक बार फिर से करवट ली. कुछ दिन की राहत के बाद एक बार फिर सर्द हवाओं ने जोर पकड़ लिया है. पूरा ज़िला कोहरे और शीत लहर की चपेट में है.यहां मामूली बूंदाबांदी भी हुई.सुबह 11 बजे तक छाया रहा कोहरा छाया रहा.

शिवपुरी में बिगड़ा मौसम का मिजाज़
शिवपुरी में आज अचानक झमाझम बारिश होने लगी. बारिश ने मौसम का मिजाज़ बिगाड़ दिया. ठंड के साथ गलन होने लगी.

(भोपाल से रिपोर्टर - अनुराग श्रीवास्तव, जबलपुर से पवन पटेल, होशंगाबाद से शैलेन्द्र कौरव, अशोक नगर से अशोक अग्रवाल, शिवपुरी से समीर का इनपुट)

ये भी पढ़ें-सेना दिवस : शहादत के बाद पत्नी के पास पहुंचा शहीद सूबेदार नरेन्द्र सिंह का ख़त

PHOTOS : घने कोहरे और ठंड के बीच मकर संक्रांति पर नदियों में पवित्र स्नान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 1:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर