Weather Update: मध्य प्रदेश में लोगों को मिली कड़ाके की ठंड से राहत, लेकिन 4-5 फरवरी को बारिश के साथ गिर सकते हैं ओले

मध्‍य प्रदेश में सोमवार को सबसे कम तापमान (तीन डिग्री सेल्सियस) मंडला एवं उमरिया में दर्ज किया गया.

मध्‍य प्रदेश में सोमवार को सबसे कम तापमान (तीन डिग्री सेल्सियस) मंडला एवं उमरिया में दर्ज किया गया.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के अधिकांश भागों में सोमवार से लोगों को कड़ाके की ठंड (Cold) से राहत मिलनी शुरू हो गई है. हालांकि मौसम विभाग ने गुरुवार और शुक्रवार को राज्‍य के कुछ हिस्‍सों में बारिश के साथ ओले गिरने की संभावना जताई है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के अधिकांश भागों में सोमवार से तापमान बढ़ने से एक सप्ताह से जारी कड़ाके की ठंड (Cold) से राहत मिलनी शुरू हो गई है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पी के साहा (PK Saha) ने बताया कि पड़ोसी राजस्थान में चक्रवाती हवाओं का प्रभाव बना हुआ हुआ है, जिसके चलते मध्य प्रदेश में सोमवार से तापमान में वृद्धि होने लगी है. इससे मध्य प्रदेश के अधिकांश भागों में कड़ाके की ठंड से राहत मिलनी शुरू हो गई है.

मौसम वैज्ञानिक पी के साहा ने कहा कि पिछले 24 घंटे में (रविवार सुबह साढ़े आठ बजे से सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे तक) प्रदेश में सबसे कम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस मंडला एवं उमरिया में दर्ज किया गया है.

चार और पांच फरवरी को ऐसा रहेगा मौसम का हाल

इसके अलावा मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पी के साहा ने बताया कि मध्‍य प्रदेश में गुरुवार एवं शुक्रवार (चार और पांच फरवरी) को कुछ स्थानों पर बादल छाये रहने का पूर्वानुमान है. वहीं इस दौरान हल्की बारिश एवं ओले भी गिर सकते हैं.
आपको बता दें कि निजी मौसम पूर्वानुमान कंपनी ‘स्काईमेट वेदर’ ने 2021 में दक्षिण-पश्चिम मानसून के सामान्य रहने का अनुमान जताया है. वर्ष 2019 और 2020 में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून में बारिश सामान्य से अधिक हुई थी.

पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल

स्काईमेट वेदर ने कहा कि पिछले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी की गतिविधियां दर्ज की गई हैं. तटीय आंध्र प्रदेश में भी कुछ स्थानों पर बादलों की गर्जना के साथ बारिश हुई. आंतरिक तमिलनाडु में हल्की बारिश हुई है. पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल में शीत लहर का प्रकोप जारी रहा. उत्तर प्रदेश, बिहार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम के कुछ हिस्सों में बेहद घना कोहरा छाया रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज