मध्यप्रदेश में लागू हुआ बच्चों के बस्ते के वजन, जानें आपके बच्चे के लिए क्या हुआ तय

मध्यप्रदेश के स्कूली शिक्षा विभाग ने भी बच्चों के बस्ते के वजन तय कर दिया है. अब अधिकतम 5 किलो वजन ही दसवीं कक्षा तक के लिए तय हुआ है.

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 12, 2019, 11:38 PM IST
मध्यप्रदेश में लागू हुआ बच्चों के बस्ते के वजन, जानें आपके बच्चे के लिए क्या हुआ तय
अब कम हुआ नौनिहालों के बस्ते का बोझ
Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 12, 2019, 11:38 PM IST
स्कूली के बस्ते का बोझ छोटे बच्चों पर भारी पड़ रहा है. स्कूली बच्चों के बैग का वजन कम करने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने अब क्लास दर क्लास वजन निर्धारित किया है. देर से ही सही लेकिन बच्चों के स्कूल बैग के वजन को कम करने स्कूल शिक्षा विभाग की नींद खुल गई है.

बच्चों को अब नहीं ढोना पड़ेगा बस्ते का बोझ




लागू नहीं करने वाले स्कूलों पर होगी कार्रवाई  

स्कूल बैग भारी न हो, इसके लिए पहली से दसवीं कक्षा तक के स्कूली बच्चों के बस्तों का वजन तय किया गया है. स्कूल बैग के वजन को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों को आदेश दिए हैं कि स्कूलों में ही टीचिंग मैटेरियल और वर्क बुक्स रखा जाए. अगर गाइडलाइन फॉलो नहीं की जाती है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी. वहीं स्कूल बैग के वजन को लेकर तय की गई गाइडलाइन तत्काल प्रभाव से लागू की गई है.

स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने दी पूरी व्यवस्था की जानकारी 


 

कक्षा                                स्कूल बैग का वजन
Loading...

1 से 2                                   1.5किलोग्राम
3 से 5                                        2-3
6 से 7                                         4
8 से 9                                           4.5
10                                                   5

मानव संसाधन विकास मंत्रालय एक साल पहले ही स्कूलों में बच्चों के बैग का वजन तय कर चुका है. एक साल बाद ही सही प्रदेश का स्कूल शिक्षा विभाग जाग गया. एक साल बाद एमएचआऱडी के आदेश और सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू किया जा रहा है. देर से ही सही पर स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश लागू तो किया. अब देखना होगा कि विभाग के आदेश को कितने स्कूल लागू करते हैं और लागू न करने पर स्कूलों पर क्या कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें- फेसबुक फ्रेंड ने अपार्टमेंट में बुलाया और कर दिया गैंगरेप

किशोरी को घर में बनाया बंधक...गंभीर हालत में पहुंची अस्पताल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...