• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP: दिग्विजय सिंह ने अरुण यादव को ऐसा क्या कहा कि बात सुभाष यादव तक पहुंच गई ?

MP: दिग्विजय सिंह ने अरुण यादव को ऐसा क्या कहा कि बात सुभाष यादव तक पहुंच गई ?

दिग्विजय सिंह ने अरुण यादव को शाबासी दी तो भाजपा और कांग्रेस के बीच ट्विटर पर वार शुरू हो गया.

दिग्विजय सिंह ने अरुण यादव को शाबासी दी तो भाजपा और कांग्रेस के बीच ट्विटर पर वार शुरू हो गया.

Madhya Pradesh Politics: कांग्रेस में उपचुनाव तैयारी को लेकर हुई बैठक में अरुण यादव के शामिल न होने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अरुण यादव की नाराजगी के बीच ऐसा ट्वीट किया, जिससे बीजेपी कांग्रेस के बीच ट्वीटर वार शुरू हो गया है.

  • Share this:

भोपाल. कांग्रेस में उपचुनाव तैयारी को लेकर हुई बैठक में अरुण यादव के शामिल न होने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अरुण यादव की नाराजगी के बीच अब उन्होंने एक ऐसा ट्वीट किया है जिससे बीजेपी कांग्रेस नेताओं में सोशल मीडिया वॉर शुरु हो गया है और बात सिंधिया से होते हुए सुभाष यादव तक जा पहुंची है. दरअसल अरुण यादव की नाराजगी की खबरों के बीच अरुण यादव ने ट्वीट किया था कि मेरे शरीर व परिवार के रक्त की एक एक बूंद में कांग्रेस विचारधारा का प्रवाह होता है मुझ सहित समूचे परिवार के नाम के आगे यादव लिखा जाता है सिंधिया नहीं. अलगाववादी ताकतों को मुंह की खाना पड़ेगी.

अरुण यादव के इस ट्वीट पर री-ट्वीट करते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा कि शाबाश अरुण आपसे यही हम सभी लोगों को उम्मीद है. अरुण यादव के ट्वीट पर दिग्विजय सिंह की इस टिप्पणी के बाद बीजेपी नेताओं ने भी जवाब देना शुरु कर दिया. बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर जवाब देते हुए अरुण यादव पर तंज कसते हुए लिखा कि शाबाश अरुण! आप यादव जरूर हो लेकिन उनके सुर में सुर मिलाकर बंसी बजा रहे हो जिन्होंने आपके पिताजी का लगातार सरासर अपमान किया. काबिल होने के बावजूद उन्हें इन्हीं दिग्विजय सिंह और उनके गुरु अर्जुन सिंह ने मुख्यमंत्री नहीं बनने दिया. सिर्फ इसलिए कि सुभाष जी पिछड़े वर्ग से आते थे.

क्यों हो रही है सियासत ?

दरअसल कुछ दिन पहले ही चार सीटों के उपचुनाव को लेकर कांग्रेस के प्रभारी मुकुल वासनिक और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बैठक ली थी. भोपाल में होने के बावजूद अरुण यादव इस बैठक में शामिल होने नहीं पहुंचे थे. उपचुनाव में अरुण यादव खंडवा सीट से दावेदार माने जा रहे हैं. ऐसे में उनका बैठक में न पहुंचना उनक नाराजगी से जोड़कर देखा गया. अरुण यादव को लेकर सज्जन सिंह वर्मा समेत कांग्रेस के कुछ नेताओं ने तंज भी कसा. अपनी नाराजगी की खबरों के बीच अरुण यादव ने ट्वीट कर सफाई दी, हालांकि इसमें उन्होंने सिंधिया का नाम जोड़ दिया जिससे बीजेपी आगबबूला हो गई.

उपचुनाव और सियासत

मध्य प्रदेश में आने वाले दिनों में चार सीटों के उपचुनाव होने हैं. इनमें एक लोकसभा सीट खंडवा और तीन विधानसभा सीटें जोबट, रैगांव और पृथ्वीपुर शामिल हैं. खंडवा सीट से कांग्रेस में अरुण यादव दावेदार माने जा रहे हैं. हालांकि इस बारे में जब कमलनाथ से सवाल किया गया था तो उन्होंने ये कहकर चौंका दिया था कि उन्हें इस बारे में जानकारी ही नहीं है. इसी बात से अरुण यादव नाराज माने जा रहे थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज