लाइव टीवी

MP से कौन जाएगा राज्यसभा? दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया या प्रियंका गांधी!
Bhopal News in Hindi

Anurag Shrivastav | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 17, 2020, 2:33 PM IST
MP से कौन जाएगा राज्यसभा? दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया या  प्रियंका गांधी!
प्रियंका गांधी वाड्रा को एमपी से राज्यसभा भेजने की तैयारी

दो महीने बाद मध्य प्रदेश से राज्यसभा की तीन सीट खाली हो रही हैं. इनके लिए दिग्विजय सिंह (digvijay singh) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) पहले ही संभावित दावेदार हैं.

  • Share this:
भोपाल. क्या प्रियंका गांधी (Priyanka gandhi) को मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के कोटे से राज्य सभा (rajya sabha) भेजेन की तैयारी है. कांग्रेस नेता सीएम कमलनाथ के सामने रविवार को दिल्ली में ये मांग रख चुके हैं. प्रदेश के PWD मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (sajjan singh varma) ने इसे हवा दे दी है. पहले उन्होंने ये मांग रखी और अब वो सोशल मीडिया पर सक्रिय हो गए. उनके बाद अरुण यादव ने भी प्रियंका के नाम की वकालत की है. दो महीने बाद मध्य प्रदेश से राज्यसभा की तीन सीट खाली हो रही हैं. इनके लिए दिग्विजय सिंह (digvijay singh) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) पहले ही संभावित दावेदार हैं.

अप्रैल में मध्य प्रदेश में राज्यसभा की तीन सीट खाली हो रही हैं. अभी इन सीटों से कांग्रेस के दिग्विजय सिंह औऱ बीजेपी से सत्यनारायण जटिया और प्रभात झा सांसद हैं. तीनों का कार्यकाल 9 अप्रैल को खत्म हो रहा है.विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद इस बार संख्या बल के हिसाब से कांग्रेस के खाते में दो और बीजेपी को एक सीट मिलेगी. इन दो सीटों के लिए कांग्रेस में दावेदारी जारी है. दिग्विजय सिंह एक सीट के लिए स्वाभाविक दावेदार माने जा रहे हैं. प्रदेश में कांग्रेस के 15 साल बाद सत्ता में वापसी में उनका भी बड़ा योगदान है. उनकी सक्रियता और राजनीति में कद को देखते हुए दिग्विजय का फिर से राज्यसभा भेजा जाना तय सा माना जा रहा है.

ज्यातिरादित्य सिंधिया भी रेस में
विधानसभा चुनाव में पार्टी की चुनाव प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया पार्टी की सत्ता में वापसी के बाद अपना वनवास भी खत्म होने की उम्मीद लिए हैं. वो मुख्यमंत्री पद के दावेदार थे. लेकिन कमलनाथ-दिग्विजय सिंह की जोड़ी ने उन्हें रेस से बाहर कर दिया. सिंधिया फिर लोकसभा चुनाव भी हार गए. उनके समर्थक मंत्री पहले पीसीसी चीफ और अब राज्यसभा सांसद बनाने की मांग कर रहे हैं.



2 सीट-3 दावेदार
प्रदेश की अप्रैल में खाली हो रही राज्यसभा की तीन में से दो सीट कांग्रेस को मिलना है. दिग्विजय और ज्योतिरादित्य के बाद अब पार्टी नेता प्रियंका गांधी का नाम उछाल रहे हैं. रविवार को दिल्ली दौरे के दौरान सीएम कमलनाथ से नेताओं ने ये मांग रखी. प्रदेश के PWD मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने ज़ोरशोर से ये मांग उठायी. वर्मा ने ट्वीय भी किया. उसमें उन्होंने ने लिखा- इंदिरा गांधीजी अनुसूचित जाति जनजाति एवं महिला वर्ग के उत्थान के लिए प्रतिबद्ध थीं. उन्हीं के पद चिन्हों पर प्रियंका चल रही हैं. जिस तरह इंदिरा जी कमलनाथ को मध्यप्रदेश लाई थीं उसी तरह अब प्रियंका को प्रदेश से राज्यसभा में लाने का वक्त आ गया है.



राहुल को कांग्रेस, प्रियंका को राज्यसभा
सज्जन सिंह वर्मा के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने भी प्रियंका गांधी को प्रदेश के कोटे से राज्यसभा भेजे जाने की वकालत की है.
अरुण यादव ने ट्वीट कर प्रियंका गांधी को राज्यसभा भेजकर फासीवादी विचारधारा के खिलाफ जमीनी संघर्ष को धारदार और तीखा करने की जरूरत बताई.उन्होंने पार्टी की कमान राहुल गांधी को दोबारा सौंपने की मांग भी उठायी

ये भी पढ़ें-PHOTOS : ग्वालियर में भागवत कथा के पंडाल में भीषण आग लगी,कोई हताहत नहीं

एक हफ्ते में हो जाएगा नये PCC चीफ के नाम का ऐलान! रेस में हैं कई नाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 2:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर