Home /News /madhya-pradesh /

एक-एक किसान को ओलावृष्टि का मुआवजा दिलवा कर रहेंगे: कमलनाथ

एक-एक किसान को ओलावृष्टि का मुआवजा दिलवा कर रहेंगे: कमलनाथ

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बुधवार को छिंदवाड़ा जिले के विभिन्न इलाकों के गांव में ओलावृष्टि और अतिवृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया.

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बुधवार को छिंदवाड़ा जिले के विभिन्न इलाकों के गांव में ओलावृष्टि और अतिवृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया.

Bhopal News: गांव का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में कमलनाथ ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार सिर्फ एक के बाद एक झूठी घोषणाएं करती जा रही है लेकिन किसानों को अब तक कोई मदद नहीं पहुंचाई गई है. उन्होंने कहा कि गांव में गेहूं और चना इसके अलावा सब्जियां ओलावृष्टि से खराब हुई है. इस इलाके से मेरा 40 साल का संबंध है. अब मैं देखूंगा यहां लोगों को मदद किस तरह करनी है.

अधिक पढ़ें ...

    भोपाल. मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बुधवार को छिंदवाड़ा जिले के विभिन्न इलाकों के गांव में ओलावृष्टि और अतिवृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया. कमलनाथ ने दूरदराज के गांवों में जाकर किसानों से मिले, खेतों में फसल को हुए नुकसान को देखा. उन्होंने किसानों से कहा कि मध्य प्रदेश सरकार ने अब तक 2020 में फसलों को हुए नुकसान का मुआवजा नहीं दिया है. इस समय भी सरकार सिर्फ खोखली घोषणा कर रही है लेकिन वह सरकार से हर किसान को मुआवजा दिला कर रहेंगे.
    कमलनाथ जुन्नारदेव के बम्हनी और सिंगोड़ी गांवों में ओलावृष्टि और अति वर्षा से खराब हुई फसल का आकलन किया. करीब एक दर्जन गांव में वह गए और लोगों की समस्याएं सुनी. किसानों ने पूर्व मुख्यमंत्री को बताया कि हाल ही में हुई ओलावृष्टि से उनकी फसलें पूरी तरह चौपट हो गई हैं और उनके सामने गंभीर आर्थिक संकट खड़ा हो गया है.

    गांव का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में कमलनाथ ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार सिर्फ एक के बाद एक झूठी घोषणाएं करती जा रही है लेकिन किसानों को अब तक कोई मदद नहीं पहुंचाई गई है. उन्होंने कहा कि गांव में गेहूं और चना इसके अलावा सब्जियां ओलावृष्टि से खराब हुई है. अब असली बात है मुआवजे की. उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान तो सिर्फ झूठी घोषणा करते हैं लेकिन इस इलाके से मेरा 40 साल का संबंध है. अब मैं देखूंगा यहां लोगों को मदद किस तरह करनी है.

    उन्होंने कहा कि तामिया और हरदेई ब्लाक के 40 से अधिक गांव ओलावृष्टि से प्रभावित हुए हैं. मध्य प्रदेश की नई शराब नीति के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार की नीति है कि लोगों को शराब पिलाओ, नशे में रखो और सच्चाई उनके सामने ना आने दो.

    Tags: Kamal nath, Madhya pradesh news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर