Lockdown Diary: मजदूरों से भरी बस में अचानक कराहने लगी महिला..., फिर मिली ये गुड न्यूज

गुजरात से एमपी के अलीराजपुर आ रही बस में महिला ने बच्चे को जन्म दिया.

गुजरात से एमपी के अलीराजपुर आ रही बस में महिला ने बच्चे को जन्म दिया.

Lockdown Diary: गुजरात से मध्य प्रदेश के अलीराजपुर आ रही मजदूरों से भरी बस में एक गर्भवती को अचानक प्रसव पीड़ा होने लगी, तो पुलिस ने दिखाई संवेदनशीलता.

  • Share this:
भोपाल. कोरोना वायरस (COVID-19) आपदा के बीच मध्य प्रदेश पुलिस (MP Police) अमीर हो या फिर गरीब, सभी की मदद कर रही है. ऐसा ही एक मामला झाबुआ में आया है, जहां पुलिस ने संवेदनशीलता की मिसाल पेश की. गुजरात से एमपी आ रही मजदूरों से भरी बस में एक गर्भवती को अचानक प्रसव पीड़ा होने लगी. झाबुआ पुलिस को जब मामले की जानकारी मिली तो वह तुरंत मौके पर पहुंची और पूरी बस को खाली कराया. इसके बाद स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों को बुलाकर महिला की सुरक्षित डिलीवरी कराई. कोरोना लॉकडाउन के बीच बस में एक बच्चे के जन्म की खबर शहरभर में तुरंत फैल गई. लोग पुलिस की संवेदनशीलता की तारीफ करते नजर आए. पुलिस के मुताबिक डिलीवरी के बाद जच्चा-बच्चा स्वस्थ हैं.



बस में दर्द से कराह उठी महिला



गुजरात के अमरेली जिले से श्रमिकों को लेकर अलीराजपुर की ओर जा रही एक बस झाबुआ जिले के पिटोल कोरोना चेक नाके पर जांच के लिए रोकी गई थी. पिटोल चेकपोस्ट पर जब एएसपी के नेतृत्व में पुलिसवाले यात्रियों की जांच कर रहे थे कि तभी बस में बैठी झाबुआ के बाड़ी गांव की रहने वाली महिला दर्द से कराह उठी. पता चला कि महिला को प्रसव पीड़ा हो रही है. इस पर पुलिस ने तत्काल बस को खाली कराया और चेकपोस्ट पर मौजूद मेडिकल टीम को जानकारी दी. मेडिकल टीम ने महिला का बस में ही सुरक्षित प्रसव कराया. प्रसव के बाद पुलिस ने महिला को मेडिकल टीम की देख-रेख में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पिटोल में भर्ती करवाया. बताया गया कि जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं.





पुलिस की तत्परता की तारीफ
झाबुआ पुलिस द्वारा दिखाई गई इस संवेदनशीलता की जिले भर में प्रशंसा हो रही है. झाबुआ जिले में इस घटना के बाद लोगों में पुलिस के प्रति नजरिया बदला है. पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि कोरोना लॉकडाउन के हालात में पुलिस न सिर्फ अपनी ड्यूटी निभा रही है, बल्कि मानवता के प्रति कर्तव्य का भी पालन कर रही है. झाबुआ पुलिस लॉकडाउन के दौरान भूखे मजदूरों और जरूरतमंदों को खाना भी पहुंचाने का काम कर रही है. इसके अलावा राशन बांटने और बाहर से आए मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने में भी मदद कर रही है.



ये भी पढ़ें-



PM मोदी से बोले शिवराज, Lockdown 4.0 में शाम 7 से सुबह 7 बजे तक लगे 'कर्फ्यू'



MP में ASI बनने निकला था सिंघम, SP ने ठोका 5 हजार का जुर्माना, देखें Video
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज