मध्य प्रदेश की जेलों में अब महिला कैदियों को मिलेंगी चूड़ियां और बिंदी

जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भोपाल जेल में कैदियों को दिया जाने वाला खाना भी खाया
जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भोपाल जेल में कैदियों को दिया जाने वाला खाना भी खाया

जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने भोपाल सेंट्रल जेल का औचक निरीक्षण किया, इस दौरान उन्होंने जेल में बंद कैदियों के भोजन से लेकर हर जरूरतों को समझा और जेल प्रशासन को महिला कैदियों के लिए चूड़ी-बिंदी से लेकर कोरोना टाइम में इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करने वाला भोजन देने के निर्देश दिए.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (social media) और व्हाट्सएप ग्रुप (Whatsapp group) में गुरुवार को पूरे दिन यह खबर चलती रही कि क्या वाकई में मध्य प्रदेश की जेलों में महिला कैदियों को चूड़ी और बिंदी मुहैया कराई जाएंगी. इस खबर की पड़ताल जब News 18 ने की तो खबर 100 फ़ीसदी सही पाई गई. दरअसल गुरुवार को मध्य प्रदेश के गृह और जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home and Jail Minister Narottam Mishra) ने केंद्रीय जेल भोपाल (Central Jail Bhopal) का औचक निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान गृह मंत्री ने जेल प्रबंधन को यह आदेश दिए हैं कि जेल के अंदर महिला कैदियों को चूड़ियां और बिंदी भी उपलब्ध कराई जाएं. गृह और जेल मंत्री के इस आदेश के बाद जेल प्रबंधन (Jail Administration) ने इस पर अमल करना भी शुरू कर दिया है.

अंडा सेल का निरीक्षण
रिपोर्ट के मुताबिक जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने जेल में बंदियों के लिए किए गए इंतजाम का भी जायजा लिया. उन्होंने जेल की भोजनशाला और अति संवेदनशील 'अंडा सेल' का भी निरीक्षण किया. मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण की रोकथाम के लिए कैदियों की पैरोल अवधि (Parole Period) को 60 दिन और बढ़ाये जाने का भी निर्णय लिया. इसके लिए विभाग "उच्च प्राधिकार समिति" को प्रस्ताव भेजेगा. समिति की अनुशंसा मिलने पर ही पैरोल अवधि में वृद्धि सम्बंधित आदेश जारी किए जाएंगे. दरअसल पैरोल पर रिहा किये गए बंदियों की पैरोल अवधि 31 जुलाई को खत्म हो रही हैं.

ये भी पढ़ें- गुना: किसान दंपति के जहर खाने के मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश, 30 दिन में देनी होगी रिपोर्ट



कैदियों को वीडियो कॉल की भी मिलेगी सुविधा
कोरोना को देखते हुए जेलों में बंद कैदियों को अपने परिजनों से बात करने के लिए वीडियो कॉल की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. अभी जेलों में कैदियों को अपने परिजनों से टेलिफोनिक बात करने की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है. केंद्रीय जेल की भोजनशाला के निरीक्षण के दौरान जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कैदियों के लिए बनाए जा रहे खाने को चख कर देखा. उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में कैदियों के इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए खाने के साथ सलाद अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने के लिए कहा. उन्होंने जेल महानिदेशक संजय चौधरी को निर्देशित किया कि प्रदेश की सभी जेलों में कैदियों को खाने के साथ में सलाद अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित किया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज