BJP की कमलनाथ सरकार पर हल्‍लाबोल की 'रणनीति' तैयार, 24 जनवरी को होगा बड़ा आंदोलन

24 जनवरी से होगा राजस्‍थान विधानसभा का सत्र.

सीएए (CAA) के समर्थन में राजगढ़ में भाजपा (BJP) की रैली के दौरान अफसर और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए विवाद के बाद सियास घमासान मचा हुआ है. भाजपा ने राजगढ़ विवाद समेत माफियाओं के खिलाफ हो रही कार्रवाई पर 24 जनवरी को सरकार पर हल्लाबोल की तैयारी कर ली है.

  • Share this:
भोपाल. सीएए (CAA) के समर्थन में राजगढ़ में भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की रैली के दौरान अफसर और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच का विवाद अब मध्‍य प्रदेश की सियासत में बड़ा मुद्दा बन गया है. जबकि भाजपा ने राजगढ़ के विवाद समेत माफियाओं के खिलाफ हो रही कार्रवाई पर सरकार पर हल्लाबोल की तैयारी कर ली है. इसके लिए पार्टी ने 24 जनवरी को कलेक्ट्रेट घेराव का प्लान तैयार किया है. इस दौरान बीजेपी के बड़े नेताओं के नेतृत्व में सभी जिलों में बीजेपी कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट का घेराव कर अपनी नाराजगी को जताएंगे. आपको बता दें कि इससे पहले 17 जनवरी को भोपाल भाजपा कार्यालय पर प्रदेश अध्‍यक्ष राकेश सिंह, पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, गोपाल भार्गव, संगठन महामंत्री सुहास भगत समेत कई दिग्‍गज नेताओं ने मीटिंग की थी.

भाजपा का ये है प्‍लान
बीजेपी ने जो प्लान तैयार किया है उसके तहत मुरैना में जय सिंह कुशवाहा, गुना में उमाशंकर गुप्ता, सागर में गौरीशंकर बिसेन, टीकमगढ़ में लाल सिंह आर्य, छतरपुर में विष्णु दत्त शर्मा, दमोह में जयंत मलैया, रीवा में भूपेंद्र सिंह, सतना में राजेंद्र शुक्ला, सीधी में रीति पाठक, अनूपपुर में ओम प्रकाश धुर्वे, जबलपुर में नरोत्तम मिश्रा, बालाघाट में ढाल सिंह बिसेन, होशंगाबाद में अरविंद भदौरिया, रायसेन में विश्वास सारंग, राजगढ़ में रामेश्वर शर्म, इंदौर में राकेश सिंह, खंडवा में नंदकुमार सिंह चौहान, झाबुआ में सुदर्शन गुप्ता और रतलाम में जीएस डामोर को हल्ला बोल के नेतृत्व की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

bjp, rakesh singh, mp, भाजपा, राकेश सिंह
पार्टी के बड़े नेता जिलों में पहुंचकर कलेक्ट्रेट दफ्तर का घेराव कर अपने गुस्से का इजहार करेंगे.


भाजपा ने लगाया ये आरोप
बीजेपी प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ हो रही कार्रवाई को लेकर सरकार पर हमलावर है. बीजेपी का आरोप है कि माफियाओं के नाम पर भाजपा कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है. इसी को लेकर पार्टी ने अब प्रदेश सरकार के खिलाफ बड़ा हल्ला बोल की तैयारी की है, जिसमें पार्टी के बड़े नेता जिलों में पहुंचकर कलेक्ट्रेट दफ्तर का घेराव कर अपने गुस्से का इजहार करेंगे.

भोपाल और ग्‍वालियर को लेकर नहीं बनी बात
भोपाल और ग्वालियर में आंदोलन का नेतृत्व कौन करेगा इसको लेकर पार्टी ने भी नाम तय नहीं किया है. ग्वालियर और भोपाल में कलेक्ट्रेट दफ्तर का कॉलम पार्टी ने फिलहाल खाली रखा है जिसे एक-दो दिन में जारी किया जाएगा. पार्टी की कोशिश है कि सड़कों पर हल्ला बोल के जरिए प्रदेश सरकार को कटघरे में खड़ा किया जाए.

कांग्रेस ने कही ये बात
बीजेपी के सरकार के खिलाफ हल्ला बोल की तैयारी पर कांग्रेस ने भी काउंटर तलाशना शुरू कर दिया है. कांग्रेस 24 जनवरी को माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की हकीकत जनता के सामने पेश करने की तैयारी में है. इस वह बताएगी कि माफियाराज के खिलाफ सरकार की कार्रवाई किसी पार्टी विशेष के खिलाफ नहीं बल्कि गलत तरीके से काम करने वालों के खिलाफ की गई है.

 

ये भी पढ़ें-कमलनाथ सरकार की माफिया मुहिम के खिलाफ BJP का बड़ा ऐलान, करेगी ये काम

 

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.