लाइव टीवी

पढ़ें, इस शहर में धार्मिक उत्सव में डीजे पर क्यों लगी रोक
Burhanpur News in Hindi


Updated: September 1, 2015, 11:03 PM IST
पढ़ें, इस शहर में धार्मिक उत्सव में डीजे पर क्यों लगी रोक
मध्यप्रदेश के सबसे संवेदनशील जिलों में शामिल खंडवा में धार्मिक त्योहारों पर प्रशासन और पुलिस बेहद सतर्कता बरत रहा है. इस वजह से सात सितंबर को होने वाले गोगादेव उत्सव में डीजे साउंड पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है. साथ ही छड़ी उत्सव में शामिल प्रमुख लोगों की सूची भी जिला प्रशासन ने पहले तलब की है.

मध्यप्रदेश के सबसे संवेदनशील जिलों में शामिल खंडवा में धार्मिक त्योहारों पर प्रशासन और पुलिस बेहद सतर्कता बरत रहा है. इस वजह से सात सितंबर को होने वाले गोगादेव उत्सव में डीजे साउंड पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है. साथ ही छड़ी उत्सव में शामिल प्रमुख लोगों की सूची भी जिला प्रशासन ने पहले तलब की है.

  • Last Updated: September 1, 2015, 11:03 PM IST
  • Share this:
मध्यप्रदेश के सबसे संवेदनशील जिलों में शामिल खंडवा में धार्मिक त्योहारों पर प्रशासन और पुलिस बेहद सतर्कता बरत रहा है. इस वजह से सात सितंबर को होने वाले गोगादेव उत्सव में डीजे साउंड पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है. साथ ही छड़ी उत्सव में शामिल प्रमुख लोगों की सूची भी जिला प्रशासन ने पहले तलब की है.

7 सितम्बर को आयोजित होने वाले गोगादेव उत्सव के दौरान शांति व्यवस्था सुनिश्चित करने के उद्देश्य से पुलिस कन्ट्रोल रूम में अपर कलेक्टर एस.एस.बघेल की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई. बैठक में तय किया गया कि छड़ी यात्रा के दौरान डीजे साउण्ड बॉक्स के प्रयोग पर प्रतिबंध रहेगा.

कुल 7 छड़ी इस उत्सव में शामिल होंगी, जिनमें से 2 छड़ी गाड़ीखाने से,2 छड़ी बड़ा बम से तथा सोलह खोली, घासपुरा व सिंगाड़ तलाई से एक-एक छड़ी 4 बजे रवाना होंगी. यह सभी छड़ी निर्धारित मार्ग से होकर गुजरेगी.



छड़ी उत्सव का चल समारोह स्टेशन रोड, बाम्बे बाजार से होते हुए घण्टाघर, शेर चौराहा, मोघट रोड, नगर निगम चौराहा, शिवाजी चौक, दूध तलाई, गोगादेव मंदिर, तक जायेंगा. इस दौरान सभी छड़ीयों के भगतो व 11-11 कार्यकर्ताओं की सूची पहले से उपलब्ध कराई जायेगी.



बैठक में यह भी तय किया गया है कि सभी संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया जाएगा. छड़ी यात्रा के दौरान असामाजिक तत्वों में नजर रखने के लिए वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जाएगी.

दरअसल, धार्मिक लिहाज से खंडवा को बेहद संवेदनशील माना जाता है. इस वजह से प्रशासन और पुलिस किसी तरह का कोई जोखिम लेना नहीं चाहती है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2015, 11:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading