लाइव टीवी

पढ़ें, क्यों इस दंपति को दर-दर भटक कर देना पड़ रहा है अपने जिंदा होने का सबूत

Sharik Akhtar Durrani | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 20, 2016, 5:55 PM IST
पढ़ें, क्यों इस दंपति को दर-दर भटक कर देना पड़ रहा है अपने जिंदा होने का सबूत

  • Share this:
बुरहानपुर नगर निगम का अजीबो गरीब कारनामा सामने आया है. नगर निगम ने ऐसे बुजुर्ग दंपति का मृत्य प्रमाण पत्र जारी कर दिया है जो कि जिंदा है. ये बात उन्हें तब पता चली जब वो राशन की दुकान पर सामान लेने पहुंचे.

बुरहानपुर के इतवारा वार्ड में रहने वाले पुरूषोत्तम दयाल दास वाढे जब राशन दुकान पर सामान लेने गए तो उन्हें करारा झटका लगा. दुकान पर उन्हें पता चला कि उनकी और उनकी पत्नी चंपाबाई की मृत्यु होने के चलते उनका नाम राशन कार्ड से कट गया है.

यह सूनकर इस बुजुर्ग की मानो पैरों तले जमीन ही खिसक गई. हैरान परेशान पीड़ित ने इसकी शिकायत नगर निगम से लेकर कलेक्टर की जनसुनवाई शिविर में भी की लेकिन सभी जगह उन्हें बस आश्वासन देकर लौटा दिया गया.

बुजुर्ग दंपति के मुताबिक उन्हें नगर निगम की गलती के कारण काफी मानसिक पीड़ा झेलनी पड़ रही है. मृत्यु प्रमाण पत्र जारी होने से उनकी पेंशन और राशन दोनों मिलना बंद हो गया है.

पीड़ित बुजुर्ग दंपति का कहना है कि जल्द से जल्द गलती ठीक कर उनका नाम राशन में जोड़ा जाए. ताकि उन्हें राशन और पेंशन आदि सरकारी मदद मिल सकें. साथ ही पीड़ितों ने मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने की भी मांग की है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2016, 5:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर