लाइव टीवी

अवैध रेत खनन रोकने के लिए बुरहानपुर प्रशासन ने अपनाया महाराष्ट्र फार्मूला
Burhanpur News in Hindi

Sharik akhatr Durran | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: November 24, 2015, 8:05 PM IST
अवैध रेत खनन रोकने के लिए बुरहानपुर प्रशासन ने अपनाया महाराष्ट्र फार्मूला
जिले के ताप्ती नदी के घाटों से लगातार हो रहे रेत के अवैध खनन को रोकने से जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र के फार्मूले को अपनाया है. इससे रेत माफिया में हडकंप मचा हुआ है.

जिले के ताप्ती नदी के घाटों से लगातार हो रहे रेत के अवैध खनन को रोकने से जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र के फार्मूले को अपनाया है. इससे रेत माफिया में हडकंप मचा हुआ है.

  • Share this:
जिले के ताप्ती नदी के घाटों से लगातार हो रहे रेत के अवैध खनन को रोकने से जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र के फार्मूले को अपनाया है. इससे रेत माफिया में हडकंप मचा हुआ है.

बताया गया कि कलेक्टर जेपी आइरिन सिंथिया ने इस सुझाव पर अमल करते हुए खनिज विभाग ने महाराष्ट्र में अवैध उत्खननकर्ताओं पर होने वाली कार्रवाई यहां शुरू कर दी है.

इस कार्रवाई के दौरान प्रशासन का दल शहर में हो रहे निर्माण स्थलों की साइट पर पहुंचकर संग्रहित रेत की रॉयल्टी रसीद की मांग कर रहा है. रसीद नहीं प्रस्तुत करने पर अमला इसे अवैध घोषित कर संग्रहित रेत की जब्ती बना रहा है.

खनिज अधिकारी अशोक सिंगारे ने बताया कि, दो दिन में ही इस महाराष्ट्र फार्मूले के तहत खनिज विभाग ने 90 ट्रैक्टर-ट्रॉली रेत जब्त की है. खनिज विभाग को अवैध रेत खनन को रोकने के लिए अपनाया गया महाराष्ट्र का फार्मूला रास आ रहा है. खनिज अधिकारी इस अभियान को सतत चलाए जाने की बात कह रहे हैं.



दरसअल, शहर में कुकरमुक्ते की तरह विकसित हो रहीं अवैध कॉलोनियों के निर्माण कार्य के लिए अवैध रेत की बड़ी खेप पहुंच रही है. इसी के चलते यहां रेत के माफिया हावी हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2015, 8:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर