लाइव टीवी

किसानों को पटवारी की शिकायत करना पड़ा महंगा, सर्वे नहीं होने से मुआवजे का इंतजार

Sharik Akhtar Durrani | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 24, 2015, 12:41 AM IST
किसानों को पटवारी की शिकायत करना पड़ा महंगा, सर्वे नहीं होने से मुआवजे का इंतजार

  • Share this:
बुरहानुपर जिले में 80 किसानों को पटवारी की शिकायत करने का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है. पटवारी ने शिकायत करने वाले किसानों के खेतों का सर्वे ही नहीं किया. इस वजह से किसानों को फसल खराब होने पर मुआवजा नहीं मिल रहा है.

जिले के दर्यापुर के करीब 80 किसानों ने पटवारी के इस भेदभाव की शिकायत अब कलेक्टर से की है. उन्होंने कलेक्टर से गुहार लगाई है कि उनके खेतों का सर्वे कर उन्हें वाजिब मुआवजा दिलाया जाए.

दरअसल, दर्यापुर के ग्रामीणों ने सर्वे में देरी व गलत सर्वे किए जाने पर हलके के पटवारी की शिकायत कर दी थी. इसका बदला पटवारी ने 80 किसानों का सर्वे नहीं करके लिया.

तीन महीने बीत जाने के बाद भी इन किसानों को मुआवजा नहीं मिला, तो पता चला उनके प्रकरण पटवारी ने आगे भेजा ही नहीं था.

कलेक्टर जेपी आइरिन सिंथिया ने किसानों की समस्या के हल करने को लेकर खुद को असहाय बताया, लेकिन पीड़ित किसानों की फरियाद को देखते हुए मामले की जांच का भरोसा दिया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 24, 2015, 12:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर