लाइव टीवी

वो तो बस गुलाब जामुन खाना चाहता था, फिर कुछ ऐसा हुआ कि उसे जाना पड़ा पुलिस थाने

Sharik Akhtar Durrani | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 17, 2016, 7:03 PM IST
वो तो बस गुलाब जामुन खाना चाहता था, फिर कुछ ऐसा हुआ कि उसे जाना पड़ा पुलिस थाने
@demo pic

गुलाब जामुन के शौकीन को उसके मन चाहे समय पर गुलाब जामुन मिल जाए तो फिर तो क्या कहने. आजकल तो इसे बनाने के लिए भी पाउडर आने लगे हैं, जिस वजह से गुलाब जामुन और आसानी से बन जाते हैं. ऐसे ही एक गुलाब जामुन प्रेमी ने बड़े शौक से जब गुलाब जामुन बनाना शुरू किया तो फिर कुछ ऐसा हुआ कि उसे पुलिस थाने जाना पड़ा.

  • Share this:
खान पान की चीजों में मिलावट और लापरवाही रोकने के लिए खाद्य सुरक्षा जैसा कड़ा कानून बनने के बावजूद मध्यप्रदेश में खाद्य सामग्री सें संबंधित लापरवाही थमने का नाम नहीं ले रही है.

ताजा मामला बुरहानपुर के आदिवासी ब्लॉक खकनार का है. जहां पर गुरूकृपा किराना एंड जनरल स्टोर से रोशनलाल नामक ग्राहक ने नीलोंस कंपनी का गुलाब जामून बनाने का पाउडर खरीदा. लेकिन इस पैकेट को उपभोक्ता ने घर ले जाकर खोला तो उसके होश फाख्ता हो गए.

गुलाब जामुन बनाने के पाउडर के इस पैकेट में मरी हुई छिपकली निकली. जिसके बाद उपभोक्ता ने तुरंत इसकी शिकायत दुकानदार से की और उससे बिल मांगा. लेकिन दुकानदार बिल देने में आनाकानी करने लगा.

nilons gulab jamun lizard

इससे नाराज रोशनलाल ने इसकी शिकायत नजदीक के खकनार पुलिस स्टेशन में की. पुलिस ने शिकायत खाद्य सुरक्षा अधिकारी को दे दी है. खाद्य सुरक्षा अधिकारी की मानें तो पैकेट का विधिवत पंचनामा बनाकर इसकी जांच कराने के लिए प्रयोगशाला में भेजा जाएगा.

रिपोर्ट आने के बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारी एडीएम कोर्ट में केस प्रस्तुत करेंगे. जहां दोनों पक्षों की सुनवाई और मामले का फैसला होने पर नियमों में वर्णित जुर्माना और सजा दी जाएगी.

वहीं पीड़ित उपभोक्ता रोशनलाल मामले को उपभोक्ता फोरम में ले जाने की बात कह रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 17, 2016, 7:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...