लाइव टीवी

आदिवासियों पर वन विभाग की टीम ने दागे छर्रे, 4 घायलों में एक की हालत नाजुक

Sharik Akhtar | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 10, 2019, 9:15 PM IST
आदिवासियों पर वन विभाग की टीम ने दागे छर्रे, 4 घायलों में एक की हालत नाजुक
आदिवासियों के हमले के बाद जान बचाकर भागती वन विभाग और पुलिस की टीम

बुरहानपुर जिले के नेपानगर के ग्राम बदनापुर वन परिक्षेत्र में अतिक्रमण हटाने पहुंची वन विभाग और पुलिस की टीम पर आदिवासियों ने हमला कर दिया. जवाब में वन विभाग की टीम ने बंदूक से छर्रे दागे, जिसमें 4-5 लोग घायल हो गए. एक युवक की हालत नाजुक है जिले कलेक्टर ने इंदौर भेजवाया है.

  • Share this:
नेपानगर के ग्राम बदनापुर वन परिक्षेत्र में वन विभाग और पुलिस की संयुक्त टीम पर आदिवासियों ने हमला कर दिया. आदिवासियों के अतिक्रमण को हटाने पहुंचे इस दल पर पथराव किया तो अतिक्रमण हटाने पहुंची टीम छर्रे दागे और मौके से जान बचाकर भाग निकलीं. बंदूक से छोड़े गए छर्रे से 4- 5 लोग घायल हो गए. घायलों में गोखरिया सिंह नाम के युवक की स्थिति गंभीर होने पर उसे बुरहानपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया.

अतिक्रमण हटाने पहुंचे वन विभाग और पुलिस दल पर हमले के दौरान क्षतिग्रस्त डंपर


एसपी और डीएम घायल युवक को देखने के लिए रहे तीन घंटे अस्पताल में 

वन विभाग की बीट संख्या 145 इलाके में हुई घटना में घायल युवक की हालात गंभीर होने की सूचना मिली तो मौके पर उसे देखने के लिए कलेक्टर और एसपी भी पहुंच गए. घायल को नीचे एक्सरे कक्ष में लाया गया जिसके बाद कलेक्टर और एसपी करीब 3 घंटे तक उस घायल को देखने अस्पताल में रह गए. इसके बाद उसे देखने के लिए सिविल सर्जन से लेकर सारे वरिष्ठ डॉक्टर भी पहुंच गए लेकिन युवक के शरीर में करीब 5 छर्रे घुसे होने से उसे इंदौर के एमवाई हॉस्पिटल ले जाने के लिए खुद कलेक्टर ने परिजनों से गुहार लगाई.

घायल युवक को इंदौर भेजने के लिए कलेक्टर ने उसके परिजनों को मनाया और एसपी ने की भेजने की व्यवस्था


जिसके बाद घायल सुरक्षा के साथ इंदौर ले जाया गया. घायल को इंदौर पहुंचने के लिए एसपी ने जिम्मेदारी कोतवाली टीआई और एक जवान को घायल के साथ एम्बुलेंस में भेजा है, वहीं घायल की मां ने बताया कि छर्रे लगने से उसे इंदौर रेफर किया गया है. पूरे मामले में मीडिया ने कलेक्टर राजेश कौल से बात करना चाही तो उन्होंने कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से मना कर दिया. सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार युवक पर छर्रे से हमला करने के बाद इंदौर संभाग के आयुक्त ने मामले को संज्ञान में लेकर कलेक्टर और एसपी को घायल युवक का अच्छे ढंग से इलाज कराने और उसकी मॉनिटरिंग करने निर्देश दिए हैं, जिसके चलते कलेक्टर कौल कुछ भी बोलने से बचते नजर आए.

सीसीएफ एसएस रावत भी मामले की जानकारी लेने के लिए पहुंचे बुरहानपुर

Loading...

इस मामले मे डीएफओ ने बताया कि आरोपियों पर शासकीय कार्य में बाधा डालने के तहत मामला दर्ज कर घायलों को इलाज के लिए इंदौर भेजा गया है. घटना के संबंध में जांच करने पहुंचे सीसीएफ एस एस रावत ने बताया कि कार्रवाई के संबंध में जानकारी जुटाने और इस मामले से प्रशासन को अवगत कराने के सिलसिले वे बुरहानपुर पहुंचे हैं.

ये भी पढ़ें- MP budget 2019-20 : कमलनाथ सरकार के बजट में ये है ख़ास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 10, 2019, 9:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...