लाइव टीवी

यहां 5 किलो सोने और 50 किलो चांदी से बने सिंहासन पर बैठेंगे 'घनश्याम'

Sharik Akhtar | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: February 16, 2016, 12:47 PM IST
यहां 5 किलो सोने और 50 किलो चांदी से बने सिंहासन पर बैठेंगे 'घनश्याम'
बुरहानपुर में 185 साल पूराने स्वामीनारायण संप्रदाय के मंदिर में भगवान घनश्याम की मूर्ति को स्वर्ण सिंहसन में विराजित किया गया है. यह सिंहासन 5 किलो सोना व 50 किलो चांदी से बनाया गया है.

बुरहानपुर में 185 साल पूराने स्वामीनारायण संप्रदाय के मंदिर में भगवान घनश्याम की मूर्ति को स्वर्ण सिंहसन में विराजित किया गया है. यह सिंहासन 5 किलो सोना व 50 किलो चांदी से बनाया गया है.

  • Share this:
बुरहानपुर में 185 साल पुराने स्वामीनारायण संप्रदाय के मंदिर में भगवान घनश्याम की मूर्ति को स्वर्ण सिंहसन में विराजित किया गया है. यह सिंहासन 5 किलो सोना व 50 किलो चांदी से बनाया गया है.

इस अवसर पर गुजरात से आए स्वामीनारायण संप्रदाय के आचार्य राकेश प्रसाद ने अपना संबोधन दिया. उन्होंने कहा कि, स्वामीनारायण मंदिर में भगवान घनश्याम को स्वर्ण सिंहासन में विराजित किया जाना बुरहानपुर का सौभाग्य है.

गौरतलब है स्वामीनारायण संप्रदाय के गुजरात से आए आचार्य राकेश प्रसाद जी को सरकार ने राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है.  इस दौरान विधायक अर्चना चिटनीस ने प्रदेश सरकार की ओर से उनका आदर-सत्कार किया.

क्या है स्वामीनारायण संप्रदाय

स्वामीनारायण संप्रदाय हिंदू समुदाय का काफ़ी धनी संप्रदाय माना जाता है. गुजरात के गांधीनगर स्थित अक्षरधाम मंदिर इस संप्रदाय के एक सबसे महत्वपूर्ण मंदिरों में से एक है. इस संप्रदाय के लोग मुख्य रूप से गुजराती भाषी होते हैं और ये हिंदूओं के भगवान कृष्ण और राधा की अराधना करते हैं.

स्वामी सहजानंद ने की थी स्थापना
स्वामीनारायण संप्रदाय की शुरूआत 1830 में स्वामी सहजानंद ने की थी. स्वामी सहजानंद को स्वामीनारायण के नाम से भी जाना जाता है. ये पहले भारतीय साधु और समाज सुधारक थे जिन्होंनें चर्च ऑफ़ इंग्लैंड के बिशॉप हेबर से भेंट की थी.इसलिए मंदिरों की स्थापना
समाज में शांति और सदभावना क़ायम करने के मुख्य उद्देश्य से इस संप्रदाय की शुरूआत हुई थी. जटिल रीति-रिवाज को मानने वाले इस संप्रदाय के प्रमुख पुजारियों को ब्रह्मचर्य का पालन करना होता है, इन्हें औरतों को छूने या उनसे बात करने की इजाज़त नहीं है ना ही पैसा छूने की अनुमति है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 16, 2016, 12:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर