लाइव टीवी

पढ़ें, नेपानगर पेपर मिल के पावर प्लांट को लेकर एनजीटी का बड़ा फैसला
Burhanpur News in Hindi

Sharik Akhtar Durrani | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 25, 2015, 11:47 PM IST
पढ़ें, नेपानगर पेपर मिल के पावर प्लांट को लेकर एनजीटी का बड़ा फैसला

  • Share this:
बुरहानपुर के नेपानगर स्थित अखबारी कांगज कारखाना (नेपा लिमिटेड) को यहां स्थापित पावर प्लांट से निकलने वाली राख के संबंध में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) की प्रिंसिपल बैंच ऩई दिल्ली ने बडा फैसला सुनाया है.

एनजीटी की जस्टिस स्वतंत्रकुमार की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय बैंच ने नेपा लिमिटेड को उनके पावर हाउस से निकलने वाली कार्बन रहित राख को उपयोगकर्ताओं को 48 घंटे के भीतर प्रदाय करने का आदेश दिया है. साथ ही 6 महीने के भीतर पावर हाउस की तकनीक व प्लांट बदलने के भी आदेश दिया है.

एनजीटी ने कहा है आदेश का पालन नहीं करने पर संस्थान के प्रमुख के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी. एनजीटी ने अपने आदेश में यह भी कहा है 6 महीने के भीतर पावर हाउस की तकनीक व प्लांट बदला जाए.

ऐसा नहीं करने पर नेपा लिमिटेड द्वारा राख बेच कर की गई आमदनी 85 करोड की राशि मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को दी जाकर पावर हाउस बंद करने के आदेश दिए जा सकते है.

गौरतलब है कि कोर्ट के आदेश पर केंद्र सरकार ने 1999 में देशभर के पावर हाउस को नोटिफिकेशन जारी किए थे कि वह अपने यहां निकलने वाली राख को 48 घंटे के भीतर उपयोगकर्ताओं को प्रदाय करें. लेकिन नेपा लिमिटेड द्वारा केंद्र के इस नोटिफिकेशन का उल्लंघन करते हुए पावर हाउस से निकलने वाली राख को बजाए मुफ्त देने के इसे बेचा जा रहा था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 25, 2015, 11:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर