लाइव टीवी

NIA ने जारी किए फरार सिमी आतंकियों के नए फोटो
Burhanpur News in Hindi

News18
Updated: November 26, 2015, 6:21 PM IST
NIA ने जारी किए फरार सिमी आतंकियों के नए फोटो
खंडवा जेल से फरार हुए चार सिमी आतंकियों की ताजा फोटो के साथ नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने नए पोस्टर जारी कर दिए हैं. जिन्हें पुलिस ने शहरभर में जगह-जगह लगा दिए हैं.

खंडवा जेल से फरार हुए चार सिमी आतंकियों की ताजा फोटो के साथ नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने नए पोस्टर जारी कर दिए हैं. जिन्हें पुलिस ने शहरभर में जगह-जगह लगा दिए हैं.

  • News18
  • Last Updated: November 26, 2015, 6:21 PM IST
  • Share this:
खंडवा जेल से फरार हुए चार सिमी आतंकियों की ताजा फोटो के साथ नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने नए पोस्टर जारी कर दिए हैं. जिन्हें पुलिस ने शहरभर में जगह-जगह लगा दिए हैं.

बताया जा रहा है कि तेलंगाना में गत 4 अप्रैल को इन चारों आतंकियों को एक साथ देखा गया था. जिसके बाद जांच एजेंसियों के पास इनकी ताजा तस्वीरें सामने आई थीं.

इन आतंकियों पर ईनाम भी घोषित किया गया है. लेकिन एनआईए को इन्हें पकड़ने में अभी तक कोई सफलता हाथ नहीं लग पाई है.

चुनौती बने फरार आतंकी



मध्यप्रदेश पुलिस के लिए खंडवा जेल ब्रेक कर फरार हुए तीन आतंकी चुनौती बने हुए हैं. तीनों आरोपियों पर 15-15 लाख का ईनाम है. एनआईए ने 10 लाख और मध्यप्रदेश पुलिस ने 5 लाख का ईनाम घोषित किया था. मध्यप्रदेश पुलिस बीते दो सालों में तमाम प्रयास किए, लेकिन अभी तक एक भी आतंकी का सुराग नहीं लगा.

सूत्रों ने बताया कि 15 अगस्त के मद्देनजर पुलिस मुख्यालय ने प्रदेश की पुलिस को अलर्ट कर दिया है. मुख्यालय के निर्देश के बाद खुफिया विभाग भी सर्तक है. हाल ही में एनआईए ने लंबे समय से फरार चल रहे सिमी आतंकी जाकिर, मेहबूब, अजमद और सादिक पर ईनाम की घोषणा की थी.

जिन आतंकियों पर ईनाम घोषित किया गया, उनमें से आतंकी जाकिर, मेहबूब और अजमद खंडवा जेल ब्रेक कर दो सालों से फरार हैं. सादिक पहले से ही फरार है और अब वो इन तीनों के साथ मिलकर नापाक मंसूबों को अंजाम देने में जुटा है.

आतंकियों पर पुणे और यूपी में ब्लास्ट करने का आरोप है. खंडवा जेल से छह आतंकी फरार हुए थे. इन में से अबू फैजल को मध्यप्रदेश एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया था, जबकि फरार पांच आतंकियों में से दो को तेलगांना पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था.

अक्टूबर 2013 में खंडवा जेल से फरार आतंकी जाकिर, मेहबूब और अजमद मध्यप्रदेश पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हैं.

एनआईए के सूत्रों मुताबिक पिछले साल बिजनौर और चेन्नई में हुए ब्लास्ट में इन्हीं चारों का हाथ था. इसके अलावा बेंगलुरु आतंकी घटना में भी शक की सुई आतंकियों के इसी समूह पर आकर टिक रही है. माना जा रहा है कि वह किसी बड़े आतंकी हमले की साजिश रच रहे है.

एनआईए को काफी समय से इनकी लोकेशन कर्नाटक के हुबली और आसपास के इलाकों में मिल रही थी, लेकिन अब तक यह चारों गिरफ्त से बाहर है. बताया जा रहा है कि पकड़े जाने के डर से इन्होंने इलैक्ट्रानिक डिवाइस का इस्तेमाल बेहद कम कर दिया है. वो फोन पर भी बहुत कम बात करते है और एक नंबर से दूसरी बार बात करने से भी बच रहे है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2015, 6:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,709

     
  • कुल केस

    6,412

     
  • ठीक हुए

    503

     
  • मृत्यु

    199

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 10 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,152,323

     
  • कुल केस

    1,604,718

    +1,066
  • ठीक हुए

    356,660

     
  • मृत्यु

    95,735

    +42
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर