लाइव टीवी

जिसकी मौत पर रो रहे थे, उसके जिंदा लौटने पर सहेली के घर में पसर गया मातम

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: March 1, 2016, 8:07 PM IST
जिसकी मौत पर रो रहे थे, उसके जिंदा लौटने पर सहेली के घर में पसर गया मातम
एक सड़क हादसे के बाद कुछ ऐसा हुआ कि जो परिवार गम में डूबा था उसके चेहरे पर अचानक रौनक आ गई और जो परिवार दुखी परिवार को दिलासा देने पहुंचा था उस पर गम का पहाड़ टूट पड़ा.

एक सड़क हादसे के बाद कुछ ऐसा हुआ कि जो परिवार गम में डूबा था उसके चेहरे पर अचानक रौनक आ गई और जो परिवार दुखी परिवार को दिलासा देने पहुंचा था उस पर गम का पहाड़ टूट पड़ा.

  • Share this:
बुरहानुपर में एक सड़क हादसे में नौंवी कक्षा की छात्रा की मौत हो गई. लेकिन इस हादसे के बाद कुछ ऐसा हुआ कि जो परिवार गम में डूबा था उसके चेहरे पर अचानक रौनक आ गई और जो परिवार दुखी परिवार को दिलासा देने पहुंचा था उस पर गम का पहाड़ टूट पड़ा.

दरअसल, शहर के शनवारा चौराहे पर मंगलवार को तेज रफ्तार ट्रक ने पैदल सड़क पार कर रही नौंवी की छात्रा को रौंद दिया. इस हादसे में छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई.

छात्रा के पास मिले बैग के आधार पर उसकी पहचान गुलबख्श के रूप में की गई. इस दौरान उसके परिजनों को भी हादसे की सूचना दे दी गई, जिसकी वजह से परिवार में मातम पसर गया.

इसी दौरान गुलबख्श के अचानक जिंदा घर लौटने से परिजन चौंक गए. गुलबख्श ने बताया कि उसने अपना बैग सलमा बानो को दे दिया था, जिसने इस हादसे में अपनी जान गंवा दी.

कुछ देर के लिए गम में डूबे गुलबख्श के परिवार ने उसके जिंदा होने की खुशियां मनाईं. वहीं, उसकी सहेली सलमा के घर पर अब मातम पसरा हुआ है.

स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस की सख्ती नहीं होने की वजह से भारी वाहन नियम कायदों को ताक पर रखकर दौड़ रहे है. इस वजह से शहर में आए दिन हादसे होते है. हालांकि, यातायात प्रभारी संदीप चौरसिया ने लापरवाही के आरोपों को गलत बताया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुरहानपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 1, 2016, 8:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर