मृत किसान के नाम बिजली का 20 हजार का बिल, घर में कनेक्शन ही नहीं

छतरपुर जिले में विद्युत विभाग की किसानों को बकाया के कुर्की नोटिस जारी करने में बड़ी लापरवाही सामने आई है. विद्युत विभाग एक ऐसे किसान परिवार को लगातार बिल भेज रहा है, जिसके घर में कभी बिजली कनेक्शन लगा ही नहीं है.

Sunil Upadhyay | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 17, 2018, 6:04 PM IST
मृत किसान के नाम बिजली का 20 हजार का बिल, घर में कनेक्शन ही नहीं
बिना कनेक्शन के ही आ रहे बिल और पिता का मृत्यु प्रमाणपत्र दिखाते गरीब किसान बंधु
Sunil Upadhyay | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 17, 2018, 6:04 PM IST
छतरपुर जिले में विद्युत विभाग की किसानों को बकाया के कुर्की नोटिस जारी करने में बड़ी लापरवाही सामने आई है. विद्युत विभाग एक ऐसे किसान परिवार को लगातार बिल भेज रहा है, जिसके घर में कभी बिजली कनेक्शन लगा ही नहीं है. इतना ही नहीं, जिस व्यक्ति के नाम कागजों में कनेक्शन है,उसकी मौत को भी चार साल हो चुके हैं.

यह मामला छतरपुर जिले के गुढाखुर्द गांव के नाथूराम रजक के घर में कभी एक बल्ब तक नहीं जला, उसके घर तक कभी बिजली का तार तक नहीं पहुंचा. लेकिन उस घर के पते से बिल लगातार आ रहा है, जो अबतक 20 हजार से ऊपर का हो चुका है. नाथूराम के परिवार के मुताबिक एक साल पहले विद्युत विभाग का ठेकेदार इनके घर आया और कनेक्शन के लिए कागज मांगे. उन्होंने राशन कार्ड देते हुए कहा कि राशनकार्ड नया नहीं है, पिता के नाम से ही अभी तक है लेकिन उसमें हमारे नाम भी हैं. कनेक्शन हमारे नाम करना. लेकिन कनेक्शन कागजों में उनके मृतक पिता नाथूराम के नाम से हो गया.

नाथूराम के दोनों बेटों ने विद्युत विभाग से लेकर एसडीएम तक कई बार शिकायतें कर बिल बंद करवाने साथ ही पिता की मौत हो जाने की सूचना दी. पीड़ित परिवार का कहना है कि लापरवाह विद्युत विभाग का गैर-जिम्मेदाराना रवैया अब तक जारी है. ऐसे में महेश और उनका परिवार एक ओर जहां सूखे और गरीबी की मार झेल रहा है, वहीं बिना कनेक्शन लगे आने वाले इन बिलों से खासा परेशान है. वहीं विद्युत विभाग के आला अधिकारी इस मामले में पीड़ित परिवार पर ही ठीकरा फोड़ते हुए अपनी जवाबदारी से पल्ला झाड़ते नजर आ रहे हैं.






पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर