अपना शहर चुनें

States

छतरपुर कलेक्टर को पत्र- मुझे चोरी, डकैती, हत्या और रेप की अनुमति दें, या फिर...!

छतरपुर में युवक ने कलेक्टर से अपराध की अनुमति मांगी है. (प्रतिकात्मक तस्वीर)
छतरपुर में युवक ने कलेक्टर से अपराध की अनुमति मांगी है. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

हर्ष ने लिखा है कि वह 10वीं पास है. आईटीआई भी कर चुका है. लेकिन, उसे अभी तक कोई रोजगार नहीं मिला. हर्ष गोस्वामी ने अपने आवेदन में लिखा है कि कक्षा 10वीं के बाद उसने आईटीआई इस उम्मीद से की थी कि उसे नौकरी मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 7:30 PM IST
  • Share this:
छतरपुर: छतरपुर में ऐसा वाक्या सामने आया है जो आपका सिर चकरा देगा. ठीक वैसे, जैसे यहां के प्रशासन का चकराया हुआ है. एक युवक ने अपनी बेरोजगारी का हवाला देकर कलेक्टर को आवेदन दिया है. आवेदन में उसने आपराधिक वारदातों को अंजाम देने की अनुमति मांगी है.

जानकारी के मुताबिक, लवकुश नगर क्षेत्र के अटकोहा में रहने वाले हर्ष गोस्वामी ने कलेक्टर को लिखित में आवेदन दिया है. हर्ष ने लिखा है कि वह 10वीं पास है. आईटीआई भी कर चुका है. लेकिन, उसे अभी तक कोई रोजगार नहीं मिला. हर्ष गोस्वामी ने अपने आवेदन में लिखा है कि कक्षा 10वीं के बाद उसने आईटीआई इस उम्मीद से की थी कि उसे नौकरी मिलेगी. लेकिन, हालात ऐसे हैं कि उसके जैसे कई युवा बेरोजगार घूम रहे हैं, इसकी वजह से चोरी, डकैती, हत्या एवं रेप जैसी घटनाएं हो रही हैं.





युवक ने आवेदन में लिखा- रोजगार नहीं मिला तो अपराध करूंगा
युवक ने कलेक्टर को दिए आवेदन में अजीब बात लिखी. उसने लिखा- यदि उसे रोजगार नहीं मिला तो वह भी चोरी, डकैती, हत्या एवं रेप जैसी घटनाएं करेगा और इसकी जिम्मेदार सरकार होगी. कलेक्ट्रेट की शिकायत शाखा में यह आवेदन मिलने के बाद वहां के स्टाफ ने इस पर सील लगाकर जमा तक कर लिया है. हर्ष ने बकायदा अपनी शिकायत की रिसीविंग भी ली है. अब जिला प्रशासन दावा कर रहा है कि आवेदन देने वाले युवक से संपर्क कर बातचीत की जाएगी. शासन के नियमों के मुताबिक उसे उचित रोजगार दिलाने की कोशिश भी की जाएगी.

छतरपुर की एक अजीबो-गरीब खबर ये भी है

पिछले महीने की 11 तारीख को जिले से ललौली क्षेत्र के पास 25 फीट गहरे सूखे कुएं से बैल को बड़ी मुश्किल से रेस्क्यू किया गया था. ये बैल 2 दिनों से कुएं में ही फंसा रहा. इस दौरान एक राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं की उस पर नजर पड़ी और उन्होंने उसे बचा लिया था. यह रेस्क्यू ऑपरेशन पूरे 4 घंटे तक चला था.बताया जाता है कि जब यह जब लोग इस जगह से गुजर रहे थे तो उन्हें एक बैल के रंभाने की आवाज आई. उन्होंने देखा तो बैल काफी नीचे था. लोगों ने कार्यकर्ताओं को जानकारी दी तो वे आए और बैल को निकालने का प्लान बनाया. इसके बाद दो लोग कुएं रस्सी लेकर उतरे और बैल को किसी तरह निकाल लिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज