Home /News /madhya-pradesh /

chhatarpur cops seek help from baba to solve murder case asi suspended video goes viral mpns

VIDEO: युवती की हत्या की गुत्थी सुलझाने बाबा के पास पहुंची पुलिस, मृतिका के चाचा को ही किया गिरफ्तार, ASI सस्पेंड

Chhatarpur News: छतरपुर जिले में पुलिस हत्या के मामले में पंडोखर सरकार की शरण में गई. एसपी ने टीआई को लाइन अटैच कर दिया.

Chhatarpur News: छतरपुर जिले में पुलिस हत्या के मामले में पंडोखर सरकार की शरण में गई. एसपी ने टीआई को लाइन अटैच कर दिया.

MP Latest News: मध्य प्रदेश की छतरपुर पुलिस से जब एक 17 साल की लड़की का मर्डर केस नहीं सुलझा तो उसने मजेदार कदम उठाया. बमीठा थाना प्रभारी और एएसआई इस केस को सुलझाने के लिए पंडोखर सरकार की शरण में चले गए. कमाल की बात यह है कि बाबा ने बाकायदा पुलिस को क्लू दिया. इस क्लू पर पुलिस ने फौरन एक्शन भी लिया और लड़की के चाचा को हत्या का आरोपी बताते हुए गिरफ्तार कर लिया. मृतक लड़की के घरवालों को यह बात पची नहीं. उन्होंने एसपी से शिकायत की. एसपी ने थाना प्रभारी को लाइन अटैच और एएसआई को सस्पेंड कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

छतरपुर. मध्य प्रदेश की छतरपुर पुलिस का मजेदार वीडियो वायरल हुआ है. यहां की बमीठा पुलिस एक युवती की हत्या का मामला सुलझाने के लिए भूत-भविष्य बताने वाले बाबा की शरण में चली गई. कमाल की बात यह है कि बाबा के कहने पर पुलिस ने कार्रवाई भी की और युवती के चाचा को ही आरोपी बताकर उठाकर लिया. परिजनों ने इस पर आपत्ति ली. उन्होंने एसपी से मुलाकात कर शिकायत की. एसपी ने भी बाबा और पुलिस का वीडियो देखने के बाद थाना प्रभारी को लाइन अटैच और एएसआई को सस्पेंड कर दिया है. घटना बमीठा थाना इलाके के ओटापुरवा गांव की है.

जानकारी के मुताबिक, ओटापुरवा गांव में 28 जुलाई को 17 साल की लड़की का शव कुएं में  मिला था. इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया था. पुलिस ने युवती के घरवालों से पूछताछ की तो उन्होंने गांव के तीन लड़कों पर शक जताया. उन्होंने पुलिस से कहा कि उन तीनों ने ही युवती को कुएं में फेंका है. पुलिस ने उनके शक जाहिर करने पर तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया. पुलिस को आरोपियों से ज्यादा जानकारी नहीं मिली. तीनों की मोबाइल लोकेशन भी घटनास्थल की नहीं थी. इस पर पुलिस परेशान होने लगी. केस न सुलझने के वजह से पुलिसकर्मियों का तनाव बढ़ता जा रहा था.

पुलिस ने दरबार में लगाई अर्जी
इसके बाद थाना प्रभारी पंकज शर्मा और एएसआई अनिल शर्मा ने फैसला किया कि वह इस मामले को लेकर पंडोखर सरकार के दरबार में जाएंगे. एएसआई अनिल शर्मा ने उनके दरबार में अर्जी लगाई और पंडोखर सरकार ने उन्हें बातें बताना शुरू कर दिया. बाबा ने पुलिस को कुछ संकेत दिए. इन संकेतों के आधार पर थाना प्रभारी पंकज शर्मा ने मृतक लड़की के चाचा तीरथ अहिरवार को उठा लिया और उस पर भतीजी की हत्या का आरोप लगाकर गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा किया और कहा कि कि आरोपी चाचा को भतीजी के चरित्र पर शंका थी. इसलिए उसने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और उसे कुएं में फेंक दिया.

परिजनों के गले नहीं उतरी पुलिस की कहानी
इधर, मृतिका के घरवालों को पुलिस की कहानी पची नहीं वे बमीठा थाना प्रभारी पंकज शर्मा के पास भी शिकायत करने गए. शर्मा ने परिजनों को पंडोखर सरकार का वीडियो दिखाया और अपनी बात सही साबित करने की कोशिश की. वीडियो में पंडोखर सरकार तीनों युवको के आलावा किसी चौथे शख्स का क्लू दे रहे हैं. इसी वीडियो पर पीड़ित परिवार ने आपत्ति उठाई और एसपी से शिकायत की. इसके बाद एसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी पंकज शर्मा को लाइन अटैच कर दिया और एएसआई अनिल शर्मा को सस्पेंड कर दिया. इस मामले कै जांच के आदेश खजुराहो एसडीओपी को दिए हैं.

Tags: Chhatarpur news, Mp news, Trending news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर