लाइव टीवी

नोटबंदी के बाद भी रिश्वत का खेल जारी, क्लर्क 10000 रुपए घूस लेते पकड़ाया
Chhatarpur News in Hindi

Sunil Upadhyay | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 21, 2016, 12:15 AM IST
नोटबंदी के बाद भी रिश्वत का खेल जारी, क्लर्क 10000 रुपए घूस लेते पकड़ाया
सांकेतिक फोटो

नोटबंदी के बाद भी मध्य प्रदेश में रिश्वत के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है. अब प्रदेश के छतरपुर जिले में लोकायुक्त पुलिस ने तहसील कार्यालय में क्लर्क और वकील को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
नोटबंदी के बाद भी मध्य प्रदेश में रिश्वत के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है. अब  प्रदेश के छतरपुर जिले में लोकायुक्त पुलिस ने तहसील कार्यालय में क्लर्क और वकील को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

सागर लोकायुक्त पुलिस के अनुसार, श्यामरा गांव के किसान रामकृपाल से लिपिक सरमन कुशवाहा ने नामांतरण करवाने के लिए 20 हजार रुपए रिश्वत मांगी थी. किसान ने रिश्वत मांगे जाने की शिकायत लोकायुक्त पुलिस से की थी.

लोकायुक्त एसपी ने शिकायत की तस्दीक के बाद एक विशेष टीम का गठन किया था. इस टीम ने जाल बिछाते हुए मंगलवार दोपहर को छापामार कार्रवाई की.

क्लर्क ने तहसील के वकील नरेंद्र चतुर्वेदी को दिलवा दिए, जैसे ही लोकायुक्त पुलिस वहां पहुंची तो रिश्वत की राशि वकील के हाथ में मिली. लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वत लेने वाले तहसील के लिपिक सरमन कुशवाहा और वकील नरेंद्र चतुर्वेदी को सह आरोपी बनाकर मामले की जांच शुरू कर दी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए छतरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 21, 2016, 12:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर