लाइव टीवी

छतरपुर शासकीय कॉलेज के फर्जी डिग्रीधारी तीन गेस्ट फैकल्टी हटाए गए

Sunil Upadhyay | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 11, 2017, 2:04 PM IST
छतरपुर शासकीय कॉलेज के फर्जी डिग्रीधारी तीन गेस्ट फैकल्टी हटाए गए
छतरपुर का शासकीय कॉलेज.

मध्य प्रदेश के छतरपुर शासकीय कॉलेज में कार्यरत जोधपुर नेशनल यूनिवर्सिटी से फर्जी डिग्री हासिल करने वाले तीन गेस्ट फैकल्टी को निलंबित कर दिया गया है. इसमें से दो शासकीय महाराजा कॉलेज में और एक नौगाव में पदस्थ थे.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के छतरपुर शासकीय कॉलेज में कार्यरत जोधपुर नेशनल यूनिवर्सिटी से फर्जी डिग्री हासिल करने वाले तीन गेस्ट फैकल्टी को निलंबित कर दिया गया है. इसमें से दो शासकीय महाराजा कॉलेज में और एक नौगाव में पदस्थ थे. गेस्ट फैकल्टी अरविंद महलोनिया, हेमंत यादव और राहुल अवस्थी को उनकी पीएचडी डिग्री में खामियां पाए जाने पर निलंबित किया गया है.

गौरतलब है कि फर्जी डिग्री बेचने के आरोप में जोधपुर नेशनल यूनिवर्सिटी के चैयरमेन और कंट्रोलर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया था, जिसके बाद 25 हजार डिग्रियां फर्जी बताई गई थीं. इसी कड़ी में जांच टीम द्वारा दिसंबर 2016 में छतरपुर के तीन गेस्ट फैकल्टी और दो नियमित सहायक प्राध्यापकों की पीएचडी डिग्रियों में खामियां पाई गई थीं.

उच्च शिक्षा विभाग मध्य प्रदेश के आदेश पर तीन गेस्ट फैकल्टी को निलंबित कर दिया गया है लेकिन शासकीय महाराजा कॉलेज में पदस्थ दो सहायक प्राध्यापकों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

जांच टीम द्वारा उनकी भी डिग्री एक जैसी ही बताई गई थी, जिसमें रसायन शास्त्र के सहायक प्राध्यापक पीके पटेरिया और भौतिकशास्त्र के सहायक प्राध्यापक धर्मेश कुमार खरे शामिल हैं. अब देखना यह होगा कि जिस तरह से गेस्ट फैकल्टी को निलंबित किया गया है उसी तरह क्या सहायक प्राध्यापकों पर भी कोई कार्रवाई की जाएगी या नहीं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए छतरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 11, 2017, 2:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर