Home /News /madhya-pradesh /

हनुमान जी के दर्शन कर घर लौटते ही, ये अफसर 'पाप' करते पकड़ाया

हनुमान जी के दर्शन कर घर लौटते ही, ये अफसर 'पाप' करते पकड़ाया

मध्य प्रदेश वन विभाग के छतरपुर जिले के बकस्वाहा अनुविभागीय अधिकारी (एसडीओ) बीएल वर्मा को सागर लोकायुक्त टीम ने 70 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा.

मध्य प्रदेश वन विभाग के छतरपुर जिले के बकस्वाहा अनुविभागीय अधिकारी (एसडीओ) बीएल वर्मा को सागर लोकायुक्त टीम ने 70 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा.

मध्य प्रदेश वन विभाग के छतरपुर जिले के बकस्वाहा अनुविभागीय अधिकारी (एसडीओ) बीएल वर्मा को सागर लोकायुक्त टीम ने 70 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा.

    मध्य प्रदेश वन विभाग के छतरपुर जिले के बकस्वाहा अनुविभागीय अधिकारी (एसडीओ) बीएल वर्मा को सागर लोकायुक्त टीम ने 70 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा.

    सागर लोकायुक्त टीम के प्रमुख एवं निरीक्षक संतोष जामरा ने बताया कि वर्मा को बक्सवाहा निवासी मनीष जैन से उसकी जब्त की गई जेसीबी मशीन छोड़ने के लिए 70 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया. यह रिश्वत वर्मा ने अपने छतरपुर स्थित आवास पर ली. उन्होंने कहा कि बाद में एसडीओ वर्मा को जमानत पर रिहा कर दिया गया.

    बताया जा रहा है कि रिश्वत लेने के पहले जामरा ने हनुमान मंदिर के दर्शन किए. फिर घर आकर रिश्वत लेते ही वह रंगे हाथों पकड़ा गया.

    जामरा ने बताया कि वर्मा ने मनीष से जब्त जेसीबी मशीन छोड़ने के लिए 70 हजार की रिश्वत मांगी थी जिसकी शिकायत मनीष ने सागर लोकायुक्त कार्यालय में की थी.

    पीड़ित मनीष जैन ने बताया कि हमने कुछ समय पहले वन विभाग के भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए सूचना के अधिकार के तहत जानकारी निकलवाई थी. इस बात से नाराज होकर वन विभाग के अधिकारी आए दिन प्रताड़ित करते थे. इन लोगों ने हमारे खेत पर चल रही जेसीबी मशीन जब्त कर ली.

    Tags: Forest department

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर