लाइव टीवी

एमपी में दो और किसानों ने की आत्महत्या, 10 दिनों में 18 मौतें

Sunil Upadhyay | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 22, 2017, 11:56 AM IST
एमपी में दो और किसानों ने की आत्महत्या, 10 दिनों में 18 मौतें
Photo- ETV

मध्यप्रदेश में किसानों की आत्महत्या के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है. अब राज्य के छतरपुर में कर्ज से परेशान किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

  • Share this:
मध्यप्रदेश में किसानों की आत्महत्या के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है. अब राज्य के छतरपुर में कर्ज से परेशान किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

वहीं, सागर जिले के बीना में भी एक किसान ने अपनी जान दे दी. राज्य में किसान आंदोलन शुरू होने के बाद अब तक 18 किसान आत्महत्या कर चुके हैं.

बीजेपी सांसद स्वामी ने कहा- किसानों की खुदकुशी पर नहीं होनी चाहिए कर्जमाफी

राज्य के बुंदेलखंड हिस्से के तहत आने वाले छतरपुर के पड़रिया गांव के किसान महेश तिवारी पर करीब एक लाख रुपए का कर्ज था. परिजनों ने बताया कि फसल खराब होने की वजह से महेश तिवारी पर कर्ज का बोझ बढ़ गया था, जिसके चलते उन्होंने मौत को गले लगा लिया.

मृतक किसान के बेटे ने बताया कि उसके पिता ने बंटाई पर खेत लेकर चने और गेहूं की फसल उगाई थी. दोनों फसल खराब होने की वजह से वह काफी सदमे में थे. उन्हें कर्ज लौटाने का डर सता रहा था.

मुंबई से सटे डोंबिवली में किसानों का आंदोलन, कई गाड़ियों में तोड़फोड़-आगजनी

वहीं, सिविल लाइन थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मामले की विस्तृत जांच की जा रही है, जिसके बाद ही आत्महत्या की असल वजह का खुलासा हो सकेगा.वहीं, सागर जिले के बीना में साहूकार के कर्ज से तंग आकर किसान गुलई कुर्मी ने पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. किसान ने सुसाइड नोट में शंकर उदैनिया नाम के एक साहूकार पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए छतरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 22, 2017, 11:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर