CM कमलनाथ के आदेश को छिंदवाड़ा में ही डॉक्टरों ने दिखाया ठेंगा, समय पर नहीं पहुंचे अस्पताल

कमलनाथ सरकार ने जन स्वास्थ्य सेवाओं को ध्यान में रखते हुए सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में डॉक्टर के बैठने का समय बदलते हुए सुबह 9 बजे शाम 4 बजे तक कर दिया है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: June 3, 2019, 1:31 PM IST
CM कमलनाथ के आदेश को छिंदवाड़ा में ही डॉक्टरों ने दिखाया ठेंगा, समय पर नहीं पहुंचे अस्पताल
डॉक्टर का इंतजार करती महिलाएं
News18 Madhya Pradesh
Updated: June 3, 2019, 1:31 PM IST
मध्य प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में ओपीडी का समय कमलनाथ सरकार ने बदल दिया है. लेकिन सीएम कमलनाथ के विधानसभा क्षेत्र छिंदवाडा में ही सरकारी डॉक्टर समय से नहीं पहुंच रहे हैं. डॉक्टर अभी भी अपनी मनमर्जी से ड्यूटी निभा रहे हैं. बता दें कि कमलनाथ सरकार ने अस्पतालों में ओपीडी का समय सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक कर दिया है.

ज्यादातर डॉक्टर मिले नदारद-

न्यूज़ 18 की टीम आज नौ बजे सरकारी अस्पताल में पहुंची. इस दौरान अधिकांश चिकित्सक अस्पताल से नदारद थे. अस्पताल से गायब डॉक्टरों में शिशु रोग विशेषज्ञ, अस्थि रोग, दंत चिकित्सक और मलेरिया विभाग के चिकित्सक शामिल हैं.

इस मामले में जब न्यूज़ 18 ने अस्पताल के आरएमओ से बात की, उनका जवाब चौकाने वाला था. उन्होंने कहा कि रविवार को सरकार द्वारा समय बदलने का निर्देश आया है. इसलिए डॉक्टर नहीं आ पाए. अब बैठक कर सभी डॉक्टरों के समय से अस्पताल पहुंचने पर फैसला लेंगे.

मुरैना में भी नहीं पहुंचे डॉक्टर-

मुरैना में भी कमलनाथ सरकार के फैसला का असर बेअसर रहा. यहां भी जब न्यूज़ 18 की टीम पहुंची तो जिला अस्पताल की पूरी ओपीडी खाली पड़ी थी. डॉक्टर भी जिला अस्पताल की ओपीडी में समय से नही पहुंचे. मरीज डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहे थे.

आदेश नया, अंदाज पुराने-
Loading...

नई सरकार का आदेश नया तो था, लेकिन डॉक्टर वही पुराने है. उनके काम करने का अंदाज भी वही पुराना ही नजर आया. शायद, सरकार को अपने इस आदेश का सही ठंग से पालन करवाना एक बड़ी चुनोती होगी. बता दें कि कमलनाथ सरकार ने जन स्वास्थ्य सेवाओं को ध्यान में रखते हुए सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में डॉक्टर के बैठने का समय बदलते हुए सुबह 9 बजे शाम 4 बजे तक कर दिया है. ताकि दूर-दराज से आने वाले मरीजों को भी स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिल सके.

(छिंदवाड़ा से राजेश करमेले और मुरैना से दुष्यन्त सिकरवार  की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-मंदसौर गोलीकांड रिपोर्ट का फिर रिव्यू करेगी सरकार, कानून व्यवस्था को लेकर कल 11 बजे बैठक

ये भी पढ़ें- EXCLUSIVE: आखिर अपने ही मंत्रियों-विधायकों की जासूसी करवाने के लिए क्‍यों मजबूर हुई कमलनाथ सरकार?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए छिंदवाड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 3, 2019, 1:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...