कचरा लाओ मुफ्त में खाना खाओ: CM कमलनाथ के 'घर' में चल रही अनोखी योजना

छिंदवाड़ा में निगम के अधिकारियों ने ‘कचरा लाओ मुफ्त में भोजन पाओ’ योजना की शुरुआत की है. सीएम के गृहनगर में स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए इस पहल की सराहना की जा रही है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 7, 2019, 2:39 PM IST
कचरा लाओ मुफ्त में खाना खाओ: CM कमलनाथ के 'घर' में चल रही अनोखी योजना
स्वच्छता के लिए अनोखी योजना- कचरा लाओ मुफ्त में खाना खाओ (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Madhya Pradesh
Updated: August 7, 2019, 2:39 PM IST
मध्य प्रदेश सीएम कमलनाथ के गृहनगर छिंदवाड़ा में नगर निगम के अधिकारियों ने 'स्‍वच्‍छ भारत अभियान' को बढ़ावा देने के लिए नायाब तरीका निकाला है. निगम के अधिकारियों ने ‘कचरा लाओ मुफ्त में भोजन पाओ’ योजना की शुरुआत की है. सीएम के गृहनगर में स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए इस पहल की सराहना की जा रही है

कूड़ा लाने के बदले मिलेगा खाना

अधिकारियों के अनुसार, छिंदवाड़ा नगर निगम के स्थानीय निवासी अगर सड़कों पर बिखरे कूड़े को प्‍लास्टिक के थैलों में भरकर नगर निगम के पास लाएंगे तो बदले में उन्‍हें फूड कूपन दिए जाएंगे. इसे दिखाकर लोग निगम द्वारा चलाई जा रही रसोई में मुफ्त भोजन कर सकते हैं. इस योजना की शुरुआत मंगलवार को की गई. पहले ही दिन निगम के इस पहल को लोगों ने हाथों-हाथ लिया और करीब 79 लोग कचरा लेकर निगम के पास पहुंचे, जिन्हें फूड कूपन बांटे गए.

150 पंजीकृत कचरा बीनने वालों पहले से मिल रहा मुफ्त खाना(सांकेतिक तस्वीर )
150 पंजीकृत कचरा बीनने वालों को पहले से मुफ्त में खाना मिल रहा है.(सांकेतिक तस्वीर )


कूड़े और पॉलिथीन से मुक्‍त करने का है मकसद

योजना के शुरू किए जाने को लेकर अधिक‍ारियों का कहना है कि इस पहल का मकसद शहर को कूड़े और पॉलिथीन से मुक्‍त करना है. निगम के अधिकारी के मुताबिक यह कचरा कोई भी ला सकता है. अगर कोई व्‍यापारी अपने कर्मचारियों को भी कचरा लेकर भेजता है तो उसे मुफ्त खाना मुहैया कराया जाएगा.

150 पंजीकृत कचरा बीनने वालों को पहले से मिल रहा मुफ्त खाना
Loading...

NBT के मुताबिक छिंदवाड़ा नगर आयुक्‍त इच्छित गढ़पाले ने बताया कि ‘शहर में हमारी एक रसोई चल रही है जहां हर किसी को 5 रुपये में खाना दिया जा रहा है. जिले में 150 पंजीकृत कचरा बीनने वाले हैं, जिन्‍हें छिंदवाड़ा म्‍युनिसिपल कॉर्पोरेशन (सीएमसी) ने आईकार्ड और बेसिक सेफ्टी किट दी हैं.' इन कूड़ा बीनने वालों को पहले से ही मुफ्त में भोजन मिल रहा है. इसके लिए उन्हें शहर भर से लाए गए प्‍लास्टिक के कचरे को हमारी यूनिटों में जमा करना होता है. उन्होंने कहा कि आज से जो भी यूनिटों में कचरा जमा करेगा उसे फूड कूपन दिए जाएगा. यह कचरा कोई भी ला सकता है.

यह भी देखें- VIDEO: कचरा उठाने की मशीन में फंसकर गाय की मौत, लोगों ने किया हंगामा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए छिंदवाड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 7, 2019, 2:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...