Home /News /madhya-pradesh /

मोतियाबिंद ऑपरेशन में लापरवाही पर सीएम कमलनाथ ने लिया संज्ञान, दिए जांच के आदेश

मोतियाबिंद ऑपरेशन में लापरवाही पर सीएम कमलनाथ ने लिया संज्ञान, दिए जांच के आदेश

मध्य प्रदेश सरकार ने पंचायत चुनाव की आरक्षण प्रक्रिया पर रोक लगाई  (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश सरकार ने पंचायत चुनाव की आरक्षण प्रक्रिया पर रोक लगाई (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamalnath) के गृहनगर के सरकारी अस्पताल (Chhindwara Hospital) की लापरवाही का मामला. मोतियाबिंद ऑपरेशन के दो दिन बाद ही 4 मरीजों की आंख की रोशनी चली गई.

    भोपाल/छिंदवाड़ा. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के अपने गृह नगर छिंदवाड़ा के एक सरकारी अस्पताल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद चार मरीजों की आंखों की रोशनी कथित रूप से चली जाने के मामले में जांच के आदेश दिए हैं. इसी बीच, आंख की रोशनी चली जाने का दावा कर रहे तीन मरीजों को बेहतर इलाज के लिए गुरुवार की सुबह भोपाल भेजा गया. सीएम कमलनाथ ने अपने ऑफिशियल टि्वटर हैंडल से ट्वीट कर जांच का यह आदेश दिया है. सीएम ने आदेश में कहा है कि इन सभी मरीजों के इलाज का खर्च भी प्रदेश सरकार उठाएगी.

    अस्पताल से छुट्टी मिलते ही दिखना बंद
    कमलनाथ ने ट्वीट किया, ‘‘छिंदवाड़ा में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद मरीज़ों की आंख की रोशनी चले जाने का मामला सामने आने पर इसकी जांच के आदेश दिए गए हैं. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि इन मरीज़ों के इलाज का खर्च सरकार उठाएगी और इनकी रोशनी वापस लाने के सभी प्रयास किए जाएंगे. कलाबाई वानखेड़े (65), दफेलाल ढाकरिया (62), मुन्ना चोरे (50) और रामरती बाई (54) के मोतियाबिंद का ऑपरेशन छिंदवाड़ा जिला अस्पताल के नेत्र विभाग में 25 सितंबर को किया गया था. 27 सितंबर को इन सभी को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. लेकिन ऑपरेशन के दो दिन बाद ही इन मरीजों को दिखना बंद हो गया. इन सभी की एक-एक आंख का ऑपरेशन हुआ था.

    डॉक्टरों ने बताई वजह
    जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुशील राठी ने बताया, ‘‘मुन्ना चोरे को नागपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि बाकी तीन मरीजों को बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल छिंदवाड़ा से आज सुबह भोपाल भेज दिया गया.” राठी ने बताया कि ऑपरेशन के बाद मरीजों की आंख में सूजन आती है. इन मरीजों को भी यही समस्या है. इस कारण उन्हें दिख नहीं रहा है. वहीं, छिंदवाड़ा जिला अस्पताल के नेत्र विभाग के प्रभारी डॉ. गेडाम ने बताया, ‘‘इन सभी मरीजों की आंख की जांच की गई है. रेटिना में सफेदी की वजह से आंखों से दिखाई नहीं दे रहा है. सफेदी छटने के बाद मरीजों को संभवतः सामान्य दिखने लगेगा.’’

    (इनपुट - भाषा)

    ये भी पढ़ें -

    नवरात्रि में देवी की तरह सोनिया गांधी की पूजा करता है ये डॉक्टर, यह है कारण

    खुले में शौच करने पर मध्य प्रदेश में फिर एक बच्चे की हत्या, पड़ोसियों ने ली जान

    Tags: Bhopal news, Kamalnath, Madhya pradesh news, छिंदवाड़ा

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर