MP: देवास में देवताओं की फोटो लगे पटाखों से बवाल, मिली दुकान जलाने की धमकी, देखें VIDEO

मध्य प्रदेश का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.
मध्य प्रदेश का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.

मध्य प्रदेश का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल (Viral Video) हो रहा है. इस वीडियो में कुछ लोग देवी-देवताओं के फोटो वाले पटाखों को लेकर एक दुकानदार से बहस करते दिख रहे है.

  • Share this:
देवास. दीवाली से ठीक पहले मध्य प्रदेश में पटाखों को लेकर विवाद हो गया है. देवास में देवी-देवताओं के फोटो वाले पटाखों (Crackers) को लेकर एक दुकान और कुछ लोगों के बीच जमकर बहस हुआ. अब इस पूरी वारदात का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. एक सोशल मीडिया सूजर ने अपने अकाउंट से इस वीडियो को शेयर किया है. दावा किया जा रहा है कि पटाखा बेचने वाला दुकानदार मुस्लिम है. देवी-देवताओं की तस्वीर वाले पटाखों को लेकर कुछ लोगों बहस करते वीडियो में दिख रहे हैं. दुकानदार लोगों को समझाने की पूरी कोशिश करता है कि उसने पटाखे बनाए नहीं, बल्कि दूसरे राज्य से आए है. वो इन्हें सिर्फ बेच रहा है. वायरल हुए इस वीडियो को दिग्विजय सिंह ने भी अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया है. साथ ही कार्रवाई की भी मांग की है.

अपने ट्वीट में दिग्विजय सिंह ने लिखा, पटाखों पर किसका चित्र हो इसकी जवाबदारी पटाखे बनाने वाले पर है ना कि दुकानदार पर. पीएम मोदी को अध्यादेश निकाल कर पटाखों पर किसी भी धर्म के देवताओं के चित्र नहीं लगाने का क़ानून बना देना चाहिए. देवास ज़िला प्रशासन को जो निर्दोष दुकानदार को धमका रहे हैं उन पर कार्रवाई करना चाहिए.

दिग्विजय सिंह ने ये ट्वीट किया है 





हुई बड़ी कार्रवाई

सरकार के बैन के बाद मध्य प्रदेश में चीनी और देवी-देवताओं के चित्र लगे पटाखों  की बिक्री के खिलाफ मुहिम छेड़ दी गयी है. इंदौर में चीनी पटाखों को लेकर जिले में धारा 144 लागू रहेगी. देवास में प्रशासन की टीम ने दुकानों पर छापा मारकर ऐसे पटाखे ज़ब्त किए.

ये भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के प्रोफेसर का दावा, मंडला में मिले 6 करोड़ साल पुराने डायनासोर के 7 अंडे

इंदौर में ज़िला प्रशासन ने दीपावली पर चीनी और विदेशी पटाखे रखने, उनके परिवहन और बिक्री पर रोक लगा दी है. जन सामान्य के स्वास्थ्य को देखते हुए कलेक्टर मनीष सिंह ने तत्काल प्रभाव से ये आदेश लागू कर दिया है. प्रशासन ने साफ कर दिया है कि ई-कॉमर्स साइट्स पर विदेशी पटाखों की ऑनलाइन बिक्री पर लगातार नज़र रखी जाएगी. आदेश का जो भी उल्लंघन करेगा उसके खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज