Assembly Banner 2021

मध्य प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस विधायकों ने उठाई फ्री में कोरोना का टीका लगाने की मांग, सरकार पर लगाए ये आरोप

मध्य प्रदेश विधानसभी में सभी को फ्री में कोरोना का टीका लगाने का मुद्दा उठा.

मध्य प्रदेश विधानसभी में सभी को फ्री में कोरोना का टीका लगाने का मुद्दा उठा.

मध्य प्रदेश विधानसभा (MP Legislative Assembly) में कोरोना (Corona) के टीकाकरण का मुद्दा जोर-शोर से उठा. कांग्रेस (Congress) के विधायकों ने सरकार से कहा कि कोरोना के टीका लोगों को फ्री में लगना चाहिए. सरकार फ्री में कोरोना का टीका लगाने की घोषणा कर चुकी है. फिर पैसे क्यों लिए जा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 1, 2021, 11:01 PM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) पर सियासत शुरू हो गई है. इसका मुद्दा आज विधानसभा में भी गूंजा. विधानसभा में कांग्रेस विधायकों (Congress MLA) ने फ्री में टीकाकरण की मांग की. साथ ही सरकार पर आरोप लगाया कि जब फ्री में वैक्सीनेशन का वादा किया गया था तो उसके लिए लोगों से शुल्क वसूलने का काम क्यों किया जा रहा है.

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने विधानसभा में कोरोना वैक्सीनेशन का मुद्दा उठाया. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पीएम मोदी ने आज  वैक्सीनेशन करवाकर सकारात्मक संदेश दिया है. सदन में सभी सदस्यों से अनुरोध है कि 60 साल से ऊपर उम्र के विधायक  वैक्सीनेशन करवाएं. इस पर कांग्रेस ने सदन में मुफ्त वैक्सीनेशन  का मुद्दा उठाया. कांग्रेस विधायकों ने सभी का मुफ्त वैक्सीनेशन कराने की मांग उठाई.

INDORE : नगरीय निकाय चुनाव के लिए BJP ने फिर बदली रणनीति,अब ये शर्त



कांग्रेस के कई विधायकों ने सदन में कहा कि फ्री में टीका लगाया जाना चाहिए. किसी तरीके की राशि किसी व्यक्ति से नहीं लेनी, चाहिए ऐसी व्यवस्था करने की मांग आसंदी से भी की गई. सदन में कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने कहा कि जब सरकार ने सभी को मुफ्त में वैक्सीन देने का वादा किया है, तो ऐसे में सरकार अपने वादे से क्यों मुकर कर रही है. अब लोगों पर वैक्सीन का भार क्यों डाला जा रहा है.
बता दें कि आज देश भर में कोरोना वैक्सीनेशन की तीसरा चरण शुरू हुआ है. इसमें देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने कोरोना का टीका लगवाया. प्रधानमंत्री मोदी आज कोरोना का टीका लगवाने एम्स पहुंचे. सबसे पहले पीएम ने वहा पर मौजूद नर्सों से उनका नाम और उनके घर के बारे में पूछा. इसके बाद पीएम मोदी ने इंजेक्शन लगानेके पहले मजाके के लहजे में नर्सों से पूछा कि जानवरों पर इस्तेमाल किया जाने वाला सीरिंज इस्‍तेमाल करेंगी.

नर्सों को पीएम मोदी का ये सवाल समझ में नहीं आया तो उन्‍होंने झट से जवाब दिया नहीं. लेकिन पीएम ने जब इस हास्य से भरे सवाल को फिर से पूछा तो कमरे में मौजूद सभी लोगों की हंसी नहीं रुकी. पीएम ने कहा कि नेता आम तौर पर मोटी चमड़ी के होते हैं इसलिए क्या वे उनके लिए विशेष मोटी सीरिंज का इस्तेमाल करने वाली हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज