MP By-Election: 7 महीने में सांवेर में बढ़ गए 8000 मतदाता! कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की शिकायत

कांग्रेस ने सावेर विधानसभा में फर्जी वोटरों के बढ़ने की शिकायत की है.
कांग्रेस ने सावेर विधानसभा में फर्जी वोटरों के बढ़ने की शिकायत की है.

Madhya Pradesh Bye Election: इंदौर की सांवेर विधानसभा सीट पर फर्जी वोटरों (Fake voters) के बढ़ने की लिखित शिकायत कांग्रेस (Congress) ने चुनाव आयोग से की है. मध्य प्रदेश विधानसभा की 28 सीटों के लिए 3 नवंबर को होना है मतदान.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 2:25 PM IST
  • Share this:
इंदौर. इंदौर (Indore) जिले की सांवेर सीट पर हो रहे उपचुनाव (MP Assembly By-Election) में मतदान की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आती जा रही है, शिकवा- शिकायतों का दौर भी तेज होता जा रहा है. कांग्रेस (Congress) ने अब फर्जी मतदान की आशंका जताते हुए चुनाव आयोग (Election Commission) से शिकायत की है. कांग्रेस ने लिखित शिकायत में कहा कि पिछले सात महीने में सांवेर में 8000 मतदाता बढ़ गए हैं. इसलिए पार्टी ने 15 बूथों पर जताई गड़बड़ी की आशंका जताते हुए मतदान के दौरान केन्द्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त करने की मांग की है. वहीं इंडेक्स मेडिकल कॉलेज को मतदान केंद्र बनाने पर भी आपत्ति जताई है.

इंदौर जिला निर्वाचन आयोग ने सांवेर विधानसभा की अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन कर दिया है. सांवेर में कुल मतदाताओं की संख्या करीब दो लाख 70 हजार है. कांग्रेस ने चुनाव आयोग से लिखित शिकायत में कहा कि सांवेर में सात महीने में ही मतदाता सूची में करीब आठ हजार मतदाता बढ़ गए हैं. एक गांव का मतदान केंद्र हटाकर इंडेक्स मेडिकल कॉलेज को केंद्र बना दिया है. कांग्रेस को बढ़े नामों और मेडिकल कॉलेज को केंद्र बनाने में सत्ताधारियों की गड़बड़ी की आशंका है.

MP By-Polls: बीजेपी के 14 मंत्रियों की किस्मत दांव पर, 2018 में 13 नेताओं की हुई थी हार, देखें Photos



इन शिकायतों के साथ कांग्रेस नेता दिल्ली से भेजे गए केंद्रीय चुनाव आयोग के पर्यवेक्षक से मिलने पहुंचे और अपनी लिखित शिकायत दर्ज कराई है. कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू का कहना है कि लॉकडाउन के दौर में आठ हजार मतदाताओं का बढ़ना संयोग नहीं है. इंडेक्स मेडिकल कॉलेज जिसमें 10 दिन पहले ही जिला प्रशासन के अधिकारी बैठकर मतदाताओं के नाम जोड़ रहे थे और सत्यापन का फर्जीवाड़ा कर रहे थे. इस चुनाव में पहली बार उस कॉलेज को ही मतदान केंद्र बना दिया गया. इस बूथ पर सीधे-सीधे 870 नए मतदाता जुड़े हैं, जिसमें से ज्यादातर कॉलेज के हॉस्टल के पते पर हैं. सवाल उठ रहा कि जब कॉलेज बंद हैं तो नए छात्र कहां से आ गए?  पहले कभी इंडेक्स मेडिकल कॉलेज को मतदान केंद्र नहीं बनाया गया अब तक गांव मोरोद हाट का पंचायत भवन या स्कूल मतदान केंद्र होता था, जिसे खत्म करना चुनाव में गड़बड़ी का संकेत दे रहा है.
भाजपा के वरिष्ठ नेता तुलसीराम सिलावट कांग्रेस नेताओं ने सांवेर के 15 मतदान केंद्रों की सूची पर्वेक्षक को सौंपकर इन मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित करते हुए विशेष निगरानी की मांग रखी. साथ ही इंडेक्स मेडिकल कॉलेज में बनाए गए केंद्र को रद करने की मांग की. हालांकि बीजेपी इसे कांग्रेस की बौखलाहट बता रही है. वहीं बीजेपी प्रत्याशी तुलसीराम सिलावट का कहना है कि कांग्रेस के पास कोई मुद्दे नहीं है इसलिए अब वो फर्जी मतदान का आरोप लगा रही है. सांवेर में एक भी फर्जी वोटर नहीं है कांग्रेस के बेबुनियाद और निराधार आरोप हैं.

बड़ी खबर! सीएम शिवराज सिंह चौहान के 14 मंत्रियों को हाईकोर्ट ने जारी किया नोटिस, जानें क्या है मामला

कांग्रेस नेताओं ने ये रखी मांग
कांग्रेस नेताओं की मांग है कि 15 मतदान केंद्रों में कुल चार हजार मतदाता बढ़े हैं. इन सभी मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित करते हुए केंद्रीय पर्यवेक्षक की निगरानी में मतदान होना चाहिए. कांग्रेस को जिला प्रशासन के अधिकारियों पर भरोसा नहीं है. साथ ही इंडेक्स मेडिकल कॉलेज का मतदान केंद्र समाप्त कर पहले की तरह गांव मोरोद हाट में ही केंद्र रखा जाना चाहिए. हालांकि अब देखना ये होगा कि चुनाव आयोग क्या कदम उठाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज