राजगढ़ कलेक्टर के थप्पड़ पर भड़की सियासी 'आग', केंद्रीय मंत्री ने कहा- अफसरों पर कार्रवाई करे सरकार
Bhopal News in Hindi

राजगढ़ कलेक्टर के थप्पड़ पर भड़की सियासी 'आग', केंद्रीय मंत्री ने कहा- अफसरों पर कार्रवाई करे सरकार
राजगढ़ की घटना की जितनी निंदा की जाए वो कम है- प्रहलाद पटेल

राजगढ़ में सरकारी अफसर (Government Officials) और भाजपा कार्यकर्ताओं (BJP Workers) के बीच हुए विवाद ने अब सियासी रंग ले लिया है. जबकि केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल (Prahlad Patel) आज घायल भाजपाईयों से मिलने पहुंचे और घटना की निंदा की.

  • Share this:
भोपाल. राजगढ़ में सरकारी अफसर (Government Officials) और भाजपा कार्यकर्ताओं (BJP Workers) के बीच हुए विवाद ने अब सियासी रंग ले लिया है. सीएए के समर्थन में बीजेपी कार्यकर्ताओं के राजगढ़ में अफसरों के साथ हुए विवाद के बाद भाजपा के बड़े नेता कल राजगढ़ पहुंच कलेक्टर निधि निवेदिता (Nidhi Nivedita) और एसडीएम प्रिया वर्मा के गिरफ्तारी की मांग करेंगे, लेकिन उससे पहले घटना को लेकर आज राजधानी का पारा पूरे दिन चढ़ा रहा. केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल (Prahlad Patel) घायल भाजपाईयों से मिलने पहुंचे और घटना की निंदा की. उन्‍होंने कहा है कि इसके लिए कलेक्टर और एसडीएम जिम्मेदार हैं और उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

केंद्रीय मंत्री ने सरकार पर लगाया ये आरोप
केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहा है कि राजगढ़ की घटना की जितनी निंदा की जाए वो कम है. तकनीक के युग में ये साफ जानकारी मिलती है कि किसने अपराध किया. बवाल को रोकने के लिए कलेक्टर रास्ता निकाल सकती थीं, लेकिन बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर पुलिस लाठीचार्ज करना सरकार का अमानवीय चेहरा है और नासमझ अफसरों के खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए.

कांग्रेस ने किया पलटवार



राजगढ़ की घटना पर अफसरों की पीठ थपथमाने वाली कांग्रेस ने विवाद के लिए बीजेपी पर हमला बोला है. कमलनाथ सरकार के मंत्री जीतू पटवारी ने बीजेपी पर सीएए के नाम पर प्रदेश में अराजकता फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि कानून का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई होगी. उन्‍होंने कहा है कि महिला अफसर के साथ गाली गलौज करना निंदनीय है. जबकि शिवराज सिंह चौहान के बयान से उनकी मानसिकता का पता चलता है. बिना अनुमति के आयोजन करना ठीक नहीं है और बीजेपी प्रदेश में अराजकता फैलाने में लगी है. सच कहूं तो सत्ता जाने की खुन्नस में भाजपा के नेता हैं. इसके अलावा महिला अफसरों के खिलाफ बदसलूकी के मामले में कांग्रेस ने आज भोपाल में बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन कर अपने गुस्से का इजहार किया, तो वहीं अब बीजेपी राजगढ़ के विवाद को जन आंदोलन का रूप देकर पॉलिटिकल माइलेज लेने की कवायद में जुट गई है.



हालांकि तकरार की इस सियासत में सवाल ये है कि राजगढ़ में कानून व्यवस्था को लेकर सुर्खियों में लेडी अफसरों का इस घटना से कद बढ़ेगा या फिर बीजेपी के आरोपों पर कोई एक्शन होगा.

 

ये भी पढ़ें-

...जब दूल्हे ने लगाई 11 किमी तक दौड़ और उसके पीछे-पीछे भागे 50 बाराती

 

MP के मंत्री का छत्तीसगढ़ की राज्‍यपाल पर तंज, बोले- वो पुरानी बातें भूल गई हैं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading