रेपिस्ट को फांसी देने के लिए ये शख़्स ‘जल्लाद’ बनना चाहता है
Damoh News in Hindi

रेपिस्ट को फांसी देने के लिए ये शख़्स ‘जल्लाद’ बनना चाहता है
जल्लाद बनने की मांग करने वाला व्यक्ति गुलाम गौश कुरैशी

दमोह के गुलाम गौश कुरैशी का यह निर्णय किसी के मन में भी जोश पैदा कर सकता है. जब मासूमों के दुराचारियों को फांसी देने के लिए सड़कों पर उतरकर फांसी की सजा देने की मांग तो की जाती है, लेकिन कानून ही उसको फांसी दे सकता है. ऐसे में फांसी देने के लिए वे स्वयं को कानूनी रूप से निःशुल्क जल्लाद बनाने की मांग करते हुए अपने अंदर पैदा होने वाले आक्रोश को भी उजागर कर रहे हैं.

  • Share this:
मध्यप्रदेश में बच्चियों के साथ हो रहे रेप से दमोह का एक शख्स इतना आहत हो गया कि उसने खुद को जल्लाद बनाने के लिए हाईकोर्ट को पत्र लिख दिया. गुलाम गौश कुरैशी नाम के इस शख़्स ने  प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से भी निवेदन किया है कि उसे निशुल्क ये काम करने दिया जाए.

दरअसल  गुलाम गौश कुरैशी दमोह में नाबालिग मासूम के साथ हुई रेप की घटना से आहत है. वो दमोह के उस दरिंदे को फांसी की सजा मिलने पर स्वयं जल्लाद बनकर उसे फांसी देने के इक्छुक हैं. इतना ही प्रदेश की बेटियों के साथ होने वाली इस प्रकार की घटनाओं में फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद आरोपियों को भी वो फांसी पर लटकाना चाहते हैं.

दमोह जिला मुख्यालय के बजरिया वार्ड नंबर 7 में रहने वाले गुलाम गौश कुरैशी पेशे से बिजली ठेकेदार हैं. गुलाम गौश रेपिस्टों के ख़िलाफ गुस्से से भरे हुए हैं. गुलाम गौश ने हाईकोर्ट के न्यायाधीश को पत्र लिखकर उसे जल्लाद बनाने की इच्छा ज़ाहिर की है,  गौश ने प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भी अपील की है कि सरकार उन्हें जल्लाद नियुक्त करे.



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading