अपना शहर चुनें

States

बाल आयोग ने जिला अस्पताल में भर्ती दो नवजात शिशुओं को सागर भेजा

नवजात शिशुओं के साथ अस्पताल स्टाफ.
नवजात शिशुओं के साथ अस्पताल स्टाफ.

मध्य प्रदेश के दमोह के अस्पताल में इलाज करा रहे दो बच्चों को बाल आयोग ने अपने संरक्षण में लेकर सागर भेजा है. मामले के अनुसार बालकोट में एक बालक करीब तीन माह पहले लावारिस हालात में मिला था, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लाया गया था.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के दमोह के अस्पताल में इलाज करा रहे दो बच्चों को बाल आयोग ने अपने संरक्षण में लेकर सागर भेजा है. मामले के अनुसार बालकोट में एक बालक करीब तीन माह पहले लावारिस हालात में मिला था, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल लाया गया था.

यहां पर शिशु गहन चिकित्सा इकाई में उसका इलाज चल रहा था. वहीं एक बालिका को जिला अस्पताल परिसर में ही रहने वाली विक्षिप्त महिला ने जन्म दिया था, जिसके बाद उसके बच्चे को भी एसएनसीयू में भर्ती कराया गया था. वहीं दोनों ही बच्चों के स्वस्थ्य रहने के बाद अब दोनों को नियमानुसार सागर स्थित मातृछाया शिशु गृह भेजा गया है.

किशोर न्यायालय बोर्ड के अध्यक्ष सुधीर जैन विद्यार्थी सहित आयोग के सदस्यों की मौजूदगी में नियमानुसार दोनों ही बच्चों को सागर भेजे जाने की प्रक्रिया पूरी कराई गई है. जहां से जरूरतमंदों को गोदनामा दिए जाने की कार्रवाई की जाएगी.



वहीं इसी दौरान नवजात शिशु गहन चिकित्सा ईकाई में काम करने वाली नर्सों एवं स्टाफ ने बताया कि उन्होंने इन दोनों बच्चों को अपनों की तरह पाला है. अब शासन की प्रक्रिया के तहत इनको सौंपा जा रहा है. ये दोनों शिशु अब पूरी तरह स्वस्थ हैं. अस्पताल में उनका पूरा ख्याल रखा गया था.
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज