अपना शहर चुनें

States

यहां से गुजरने वाली प्रत्येक ट्रेन देती है इस प्राचीन हनुमान मंदिर में हाजिरी

दमोह जिला मुख्यालय से करीब पांच किलोमीटर दूर यह देवस्थान हठीले हनुमान के धाम के नाम से जाना जाता है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश के दमोह जिले में भगवान हनुमान का एक ऐसा धाम है जहां इंसान तो क्या ट्रेन भी मंदिर के सामने से निकलने पर अपनी आमद दर्ज कराना नहीं चूकती. अंग्रेजों के शासन काल के समय से यहां से निकलने वाली हर ट्रेन हनुमान जी के इस मंदिर के सामने से जैसे ही गुजरती है वैसे ही ट्रेन के हॉर्न की आवाज से पूरा मंदिर भी गुजांयमान हो जाता है.

 

दमोह जिला मुख्यालय से करीब पांच किलोमीटर दूर यह देवस्थान हठीले हनुमान के धाम के नाम से जाना जाता है. यहां की खास बात यह है कि इस धाम के सामने से निकलने वाली हर ट्रेन मंदिर के करीब जैसे ही आती है वह हार्न जरूर बजाती है. मंदिर महंत का कहना है कि 1858 में यह प्रतिमा खुदाई के दौरान निकली थी. जब पहली रेलगाडी 1888 में यहां से निकली तो हठीले हनुमान का चमत्कार देखने को मिला. मंदिर के सामने से निकलने वाली ट्रेन का इंजन जाम हो गया जिसके बाद से हर ट्रेन का चालक यहां पर अपनी उपस्थिती दर्ज कराता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज