अपना शहर चुनें

States

एमपी में नहीं रुक रही रिश्वतखोरी, लोकायुक्त ने पटवारी को रंगे हाथों दबोचा

रिश्वतखोर पटवारी को लोकायुक्त सागर की टीम ने 6 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है
रिश्वतखोर पटवारी को लोकायुक्त सागर की टीम ने 6 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है

एक कर्मचारी नेता के रिश्वत लेते रंगे हांथों पकड़े जाने के बाद इलाके में हड़कंप भी मचा हुआ है वहीं आरोपी पटवारी अपने ऊपर लग रहे तमाम आरोपों को सिरे से नकार रहा है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश में तमाम कवायदों के बीच भ्रष्टाचार रुकने का नाम नहीं ले रहा तो एक-एक कर रिश्वतखोर भी सामने आ रहे है. बुधवार को एक बार फिर दमोह में एक रिश्वतखोर पटवारी सामने आया है जिसे लोकायुक्त सागर की टीम ने 6 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

मामला दमोह जिले के हिंडोरिया का है जहाँ पटवारी खिलान सिंह को धरा गया. दरअसल भारत चौरसिया नाम के एक व्यक्ति को अपनी जमीन के नामांतरण और नक़्शे के लिए पटवारी खिलाएं सिंह से काम था.

बीते दो सालों से पटवारी खिलान सिंह भारत को घुमा रहा था और उसने बारह हजार रूपये की रिश्वत माँगी थी. भारत ने रिश्वत की पहली किश्त कुछ महीने पहले खिलान को दे दी थी और उसके बाद लोकायुक्त के साथ जाल बिछाकर रणनीति बनाई तो आज लोकायुक्त सागर ने हिंडोरिया में छह हजार की रिश्वत लेते खिलान को रंगे हांथो गिरफ्तार किया है.



बता दें की खिलान सिंह कर्मचारी नेता भी है और पटवारी संघ के दमोह जिले का अध्यक्ष भी है. एक कर्मचारी नेता के रिश्वत लेते रंगे हांथों पकड़े जाने के बाद इलाके में हड़कंप भी मचा हुआ है वहीं आरोपी पटवारी अपने ऊपर लग रहे तमाम आरोपों को सिरे से नकार रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज