मास्क न पहनने पर आत्मानंद सरस्वती का कटा चालान, देते रहे अजीबो-गरीब तर्क

स्वामी आत्मानंद सरस्वती मास्क ना पहनने पर पुलिस अधिकारियों को अजीबो-गरीब तर्क देते रहे.

स्वामी आत्मानंद सरस्वती मास्क ना पहनने पर पुलिस अधिकारियों को अजीबो-गरीब तर्क देते रहे.

स्वामी आत्मानंद सरस्वती आत्मानंद अधिकारियों को अजीबो-गरीब तर्क देते रहे. दमोह पुलिस ने जब उनसे मास्क पहनने का आग्रह किया तो उन्होंने दो टूक कहा कि चाहे पूरी मीडिया बुला लीजिए, मास्क नहीं लगाऊंगा. ना मास्क लगाऊंगा, ना मेरा चालान होगा, गिरफ्तार कीजिए.

  • Share this:
दमोह. मास्क ना पहनने पर अयोध्या राम जन्मभूमि निर्माण न्यास के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष स्वामी आत्मानंद सरस्वती का मध्यप्रदेश के दमोह में चालान काटा गया. हालांकि घटना बुधवार शाम पथरिया तहसील मुख्यालय की है. घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है. आत्मानंद अधिकारियों को अजीबो-गरीब तर्क देते रहे. दमोह पुलिस ने जब उनसे मास्क पहनने का आग्रह किया तो उन्होंने दो टूक कहा कि चाहे पूरी मीडिया बुला लीजिए, मास्क नहीं लगाऊंगा. ना मास्क लगाऊंगा, ना मेरा चालान होगा, गिरफ्तार कीजिए.

पूरे देश में कोरोना संक्रमण से हाहाकार मचा हुआ है. मध्य प्रदेश में भी कोरोना से स्थिति बेहद ही खराब है जिसके नियंत्रण के लिए प्रशासन द्वारा विभिन्न प्रयास किए जा रहे हैं. दमोह जिले की पथरिया तहसील मुख्यालय में बुधवार देर शाम कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए कार्रवाई के दौरान जब प्रशासन ने कनिष्ठ शंकराचार्य आत्मनंद सरस्वती राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामजन्म भूमि निर्माण न्यास अयोध्या की कार रोकी और मास्क लगाने की बात कही तो वह झल्ला उठे. उन्होंने कहा, "मेरा चालान नहीं होगा और ना मैं मास्क लगाऊंगा. आप मुझे चाहे तो गिरिफ्तार कर लीजिये."

जब कार्रवाई के दौरान तहसीलदार विकास जैन एवं पथरिया थाना प्रभारी द्वारा बार-बार कनिष्ठ शंकराचार्य आत्मानंद सरस्वती से समझाइश देकर शंकराचार्य से मास्क लगाने कहां तो संत का यही कहना था कि उनको मास्क लगाने से घुटन होती है और उनके साथ जो ड्राइवर है, वह कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए मास्क लगाए हुए है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज