लाइव टीवी

अयोध्या में राम मंदिर बनने के इंतजार में 30 साल से नंगे पांव घूम रहा ये शख्स
Damoh News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: December 25, 2019, 8:36 AM IST
अयोध्या में राम मंदिर बनने के इंतजार में 30 साल से नंगे पांव घूम रहा ये शख्स
अयोध्या में राम मंदिर बनने की खबर पर भी नहीं पहने जूते

बचपन में अयोध्या गए दमोह के एक शख्स ने ढबुये (टेंट) में रामलला को देखने के बाद ये संकल्प लिया था कि जब तक अयोध्या में भव्य राम मंदिर नहीं बन जाता तब तक वो जूते-चप्पल नहीं पहनेगा.

  • Share this:
दमोह. बचपन में अयोध्या (Ayodhya) गए एक शख्स ने ढबुये (टेंट) में रामलला (Ram lala) को देखने के बाद ये संकल्प लिया था कि जब तक अयोध्या में भव्य राम मंदिर नहीं बन जाता तब तक वो जूते-चप्पल नहीं पहनेगा. इस शख्स का नाम बल्लू उर्फ बलराम पांडेय हैं, जो नंगे पैर अपने सारे काम करते हैं. पिछले करीब 30 साल से बगैर जूते-चप्पल के वे कहीं भी आते-जाते हैं. बल्लू गांव के मंदिरों में जाकर सिर्फ इसी सपने को संजोए हुए हैं कि कब अयोध्या में रामलला सरकार का भव्य मंदिर बनेगा और वे जूते-चप्पल पहनेंगे.

पूरा मामला

जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर बटियागढ़ निवासी बल्लू उर्फ बलराम पांडेय करीब 27 वर्ष पहले अपने मित्र के साथ अयोध्या रामलाल के दर्शन करने गए थे, जहां पर बल्लू ने सभी देवी-देवताओं के दर्शन किए, उसके बाद जब अयोध्या में जन्मे दशरथ नंदन प्रभु श्री राम के दर्शन के लिए पहुंचे तो देखा कि भगवान श्री राम एक ढबुये (टेंट) में विराजमान हैं. बल्लू को मन ही मन बड़ा दुख हुआ तकलीफ हुई कि भगवान रामलला सरकार अयोध्या में अपनी ही जन्मभूमि मैं ऐसी स्थिति में हैं. तब बल्लू ने मन में एक संकल्प लिया कि "कोई ऐसा कार्य करूं जिससे मुझे रामलला सरकार की इस स्थिति का ध्यान बना रहे और मैं मन ही मन ईश्वर से लगातार यह प्रार्थना करता रहूं कि अयोध्या में रामलला सरकार का एक भव्य मंदिर का निर्माण हो, तब ही मैं जूते चप्पल पहनूंगा." बता दें कि बल्लू पांडेय की उम्र उस समय करीब 16 साल थी.



अयोध्या में राम मंदिर बनने की खबर पर भी नहीं पहने जूते



उस दिन से भगवान श्री राम के भक्त बल्लू पांडेय ने जूते-चप्पल को छोड़ने का निर्णय लिया, जिस पर वे आज भी कायम हैं. हालांकि अयोध्या में राम मंदिर बनने की जानकारी मिलने के बाद कई बार पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया एवं पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया इनसे जूते-चप्पल पहनने के लिए आग्रह कर चुके हैं.

राम मंदिर-ram temple
30 साल से बगैर जूते-चप्पल के घूम रहा ये शख्स


मंदिर बनकर पूरा होने का कर रहे इंतजार

बल्लू अब तक अपने दिनचर्या से लेकर सभी कार्य नंगे पैर ही करते हैं. चाहे गर्मी में 48 डिग्री तापमान हो या सर्दियों में 2 डिग्री पारा, बल्लू को अयोध्या में रामलला सरकार की यह स्थिति देखने के बाद किसी भी प्रकार से आज तक कोई कष्ट नहीं हुआ. बहरहाल, अब देखने वाली बात ये है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में रामलला सरकार का भव्य मंदिर निर्माण कब तक होता है और जिले की बटियागढ़ निवासी बल्लू पांडेय का ये संकल्प कब पूरा होता है.

(दमोह से धर्मेश पांडेय की रिपोर्ट) 

ये भी पढ़ें:- CAA PROTEST : शायर राहत इंदौरी का पैग़ाम-हिंदुस्तान मोहब्बत का मुल्क है...

ये भी पढ़ें:- गायों के लिए यहां मिलेगा 'परफैक्ट मैच', तैयार हैं सुयोग्य देसी-विदेशी 205 बैल
First published: December 25, 2019, 8:36 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading