अपना शहर चुनें

States

जहरीले पानी से तालाब की हजारों मछलियों की मौत

विषाक्त पानी से तालाब में मरी मछलियों को निकालता ठेकेदार
विषाक्त पानी से तालाब में मरी मछलियों को निकालता ठेकेदार

दमोह के एक तालाब का पानी जहरीला हो जाने के कारण हजारों मछलियों की मौत हो गई.शनिवार की सुबह आसपास रहने वालों को तेज बदबू आने के बाद जब उन्होंने जाकर देखा तो पता चला कि तालाब में मछलियां मर कर ऊपर तैर रही हैं.

  • Share this:
दमोह के एक तालाब का पानी जहरीला हो जाने के कारण हजारों मछलियों की मौत हो गई.शनिवार की सुबह आसपास रहने वालों को तेज बदबू आने के बाद जब उन्होंने जाकर देखा तो पता चला कि तालाब में मछलियां मर कर ऊपर तैर रही हैं.इसके बाद इस तालाब में मछली पालन करने वाले ठेकेदार को सूचना दी गई.उसने मौके पर आकर करीब दस क्विंटल मछलियां मर जाने की बात कही.इसी तालाब के किनारे पर ही एक प्राथमिक स्कूल है.इस स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे अक्सर तालाब के गंदे एवं बदबू वाले पानी से परेशान रहते हैं.यहां पर बाउंड्री नहीं होने से भी बच्चों को खतरा बना रहता है.नगर निगम ने कभी इस समस्या को गंभीरता से नहीं लिया है.

नगर पालिका दमोह के अंतर्गत आने वाले मुकेश नायक कालोनी इलाके में बने तालाब के पानी की जहरीले हो जाने के कारण यहां पर मौजूद हजारों मछलियों की मौत हो गई. तालाब में मछलियां के मर जाने के कारण स्थानीय लोगों को बारी बदबू का सामना करना पड़ा. इस तालाब का ठेका लेकर मछली पालन करने वाले गुडडन रैकवार ने बताया कि इस तालाब में सीवेज का गंदा एवं जहरीला पानी मिलता है.ऐसे हालात में पानी के कम और जहरीला हो जाने के कारण उसकी करीब पचास हजार कीमत की दस क्विंटल मछलियां फिलहाल मर गई हैं. लोगों का भी कहना है कि पानी की निकासी सही नहीं के कारण सीवेज सहित नालियों का पानी इसी तालाब में आकर मिलता है. ठेकेदार ने लोगों के कहने पर मरी मछलियां तालाब से बाहर निकालकर गड्ढे में दबाईं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज