लाइव टीवी

दो नाबालिग लड़कियों से 8 महीने तक मारपीट व दुष्कर्म के मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

News18 Madhya Pradesh
Updated: January 3, 2020, 7:39 AM IST
दो नाबालिग लड़कियों से 8 महीने तक मारपीट व दुष्कर्म के मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार
नाबालिग बच्चियों से दुष्कर्म के दोनों आरोपी भेजे गए जेल

दमोह (Damoh) जिले में दो नाबालिगों का अपहरण (Kidnapping) कर 8 महीने तक दुष्कर्म करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

  • Share this:
दमोह. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के दमोह (Damoh) जिले में दो नाबालिगों का अपहरण (Kidnapping) कर 8 महीने तक दुष्कर्म करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. दोनों नाबालिगों की तलाश में पुलिस को 3 राज्यों की खाक छाननी पड़ी थी. पुलिस ने एक नाबालिग को जहां अपहरणकर्ताओं के गिरफ्त से मुक्त कराया था, वहीं दूसरी नाबालिग की लाश सड़क किनारे मिली थी.

आरोपियों को भेजा गया जेल

बुधावर देर रात नोहटा पुलिस आगरा कैंट स्टेशन से दो आरोपियों को गिरफ्तार कर गुरुवार को दमोह लेकर पहुंची थी और कोर्ट में पेश करने के बाद दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया. दोनों आरोपियों की पहचान नोने उर्फ नरेंद्र सिंह निवासी खमरिया नोहटा थाना अंतर्गत और अशोक रैकवार निवासी घाट पिपरिया थाना हिंडोरिया के रूप में हुई है.

पूरा मामला

बीते 12 अप्रैल 2019 को एक फरियादी द्वारा नोहटा थाना में अपनी नाबालिग बेटी और भतीजी की अनजान लोगों द्वारा अपहरण की घटना दर्ज कराई गई थी. बता दें कि 21 दिसंबर को सुबह बांदरी थाना क्षेत्र में एक लड़की का शव जींस व टी-शर्ट पहने सड़क किनारे पड़ी हुई मिली थी. शिनाख्त नहीं होने की स्थिति में उसे सागर जिले की मर्च्युरी में रखा गया था. घटनास्थल पर एक्सीडेंट की संभावना होने की स्थिति में पुलिस ने मामले की जांच की, जिसमें पता चला कि मामले का तीसरा आरोपी धर्मेंद्र रजक माल्थोन निवासी नाबालिग को दमोह जिले से माल्थोन के लिए लेकर जा रहा था, तभी बांदरी के पास में उसका एक्सीडेंट हो गया. हादसे में नाबालिग की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी. मृत नाबालिग की पहचान नेहा यादव के रूप में हुई थी. बहरहाल, हादसे के बाद आरोपी धर्मेंद्र नाबालिग को वहीं छोड़कर गाड़ी घर पर रखकर अहमदाबाद की बात बोल कर घर से चला गया था.

बता दें कि हादसे से 1 दिन पहले ही धर्मेंद्र रजक को नाबालिग (मृतक) के साथ मालथौन में देखा गया था, जिसकी जानकारी लगने पर पुलिस ने मोबाइल की लोकेशन के आधार पर 2 दिन बाद आरोपी धर्मेंद्र रजक को भोपाल रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया था. साथ ही मृत नाबालिग की शिनाख्त दमोह जिले के नोहटा थाना निवासी के रूप में हुई थी, जिसके बाद सागर पुलिस द्वारा नोहटा थाना को फोटो दिखाकर सूचित किया गया जिसमें मृतक नाबालिक नेहा यादव के परिजनों को नोहटा थाना प्रभारी सागर मर्च्युरी लेकर पहुंचे जहां पर मृतक की पुष्टि होने पर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया.

आरोपी की निशानदेही के आधार पर दोनों नाबालिग लड़कियों के अपहरण में शामिल दो अन्य आरोपी अशोक रैकवार और नोने उर्फ नरेंद्र सिंह को दमोह एसपी विवेक सिंह के निर्देशन पर आरोपियों की तलाश दिल्ली और गुड़गांव में की गई. तब पता चला कि आरोपी यहां से आगरा भाग चुके हैं, जिनका पीछा करते हुए पुलिस आगरा पहुंची और दोनों आरोपियों के कब्जे से नाबालिग लड़की को बरामद कर दोनों आरोपियों को आगरा कैंट से गिरफ्तार किया गया.नाबालिग को लेकर घर धमकाने पहुंचा था आरोपी

इधर, आरोपियों की गिरफ्त से रिहा होने के बाद वापस लौटी नाबालिग ने बताया कि बीते 11 अप्रैल 2019 को धर्मेंद्र रजक, नोने सिंह के साथ अशोक रैकवार तीनों ने मिलकर उनके साथ मारपीट कर उनके साथ लगातार दुष्कर्म किया. अशोक रैकवार और नोने सिंह ने मिलकर नेहा को धर्मेंद्र रजक को बेच दिया था. संबंधित मामले में फरियादी ने बताया कि 20 दिसंबर को धर्मेंद्र रजक फरियादी के घर नाबालिग नेहा यादव को लेकर पहुंचा था, जिसके द्वारा धमकाया गया था कि नोहटा थाना में दर्ज प्रकरण अगर वापस नहीं लिया तो में तुम्हारी बेटी को जान से मार दूंगा. इसके बाद 21 दिसंबर को नेहा का बांदरी थाना अंतर्गत शव पड़ा हुआ मिला था.

बहरहाल, मामले में आरोपी धर्मेंद्र रजक की गिरफ्तारी के बाद आज नोहटा पुलिस ने बाकी के दोनों आरोपियों अशोक रैकवार और नोने सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

(दमोह से धर्मेश पाण्डेय की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें:- सेवादल के शिविर में बंटा RSS और वीर सावरकर पर साहित्य, तो नाराज़ हो गयी BJP

ये भी पढ़ें:- बकाया सैलरी मांगने पर बॉस ने युवक को जमकर पीटा फिर किया ये काम...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दमोह से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 3, 2020, 7:39 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर